रियल मैड्रिड ने सिर्फ 5 माह में सोलारी को कोच पद से हटाया, जिदान को बुलाया वापस

रियल मैड्रिड ने सिर्फ 5 माह में सोलारी को कोच पद से हटाया, जिदान को बुलाया वापस

Mazkoor Alam | Publish: Mar, 12 2019 04:21:14 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • रियल मैड्रिड को दिला चुके हैं 3 बार चैम्पियंस लीग का खिताब
  • 10 माह के भीतर क्लब ने उन्हें दोबारा दिया कोच का पद
  • बतौर कोच सोलारी का कार्यकाल रहा बेहद संक्षिप्त

मैड्रिड : रियल मैड्रिड फुटबॉल क्लब के मुख्य कोच का पद छोड़े हुए फ्रांस और विश्व के महानतम फुटबॉलर जिनेदिन जिदान को अभी एक साल भी नहीं हुए थे कि क्लब ने दोबारा कोच बना दिया। 10 माह पहले ही इस दिग्गज फुटबॉलर ने क्लब का कोच पद छोड़ा था। क्लब ने सैटियागो सोलारी को हटाकर अपनी कप्तानी में फ्रांस को विश्व कप दिला चुके इस दिग्गज को दोबारा यह जिम्मेदारी सौंपी है।

3 साल का किया करार
जिदान को दोबारा कोच बनाने का फैसला क्लब के अध्यक्ष फ्लोरेंटिनो पेरेज ने अन्य सदस्यों के साथ बात कर लिया है। 46 साल के इस खिलाड़ी के साथ तीन साल का करार किया गया है। वह जून 2022 तक टीम के कोच की जिम्मेदारी संभालेंगे। जिदान को तत्काल प्रभाव से पद संभालने के लिए कहा गया है। वह इस शनिवार को सेल्टा विगो के खिलाफ होने वाले घरेलू मैच से पहले ही टीम से जुड़ सकते हैं।
बता दें कि जिदान रियल की तरफ से मिड फील्ड में खेल भी चुके हैं। अपनी कोचिंग में मई 2018 में उन्होंने टीम को लगातार तीसरी बार चैंपियंस लीग का खिताब जिताने के बाद कोच पद से इस्तीफा दे दिया था।

जिदान की कोचिंग में टीम का प्रदर्शन रहा है शानदार
जिदान के कोच रहते रियल मैड्रिड टीम का प्रदर्शन शानदार रहा है। पहली बार उन्होंने जनवरी 2016 में पहली बार रियल मैड्रिड के कोच का पद संभाला था। जितने साल वह कोच रहे हर बार टीम ने चैम्पियंस लीग का खिताब जीता। उनके कोचिंग में पहले ही साल 2016 में रियल ने एटलेटिको मैड्रिड को हराकर चैंपियंस लीग का खिताब जीता। फिर 2017 के फाइनल में युवेंटस को हराया। इसके बाद 2018 में वह लगातार तीसरी बार चैम्पियन बना। इस बार फाइनल में लिवरपूल को हराया।

सोलारी का कार्यकाल रहा बेहद निराशाजनक
रियल मैड्रिड के कोचिंग का पद जिदान के छोड़ने के बाद सोलारी को यह जिम्मेदारी दी गई थी। उनके 5 माह का संक्षिप्त कार्यकाल बेहद निराशाजनक रहा। इसके बाद क्लब ने उन्हें हटाकर वापस जिदान को कोच बनाने का निर्णय लिया। सोलारी के कार्यकाल में इस बार रियल मैड्रिड चैंपियंस लीग के अंतिम-16 में ही हार कर बाहर हो गई। इतना ही नहीं, वह कोपा डेल रे से भी बाहर हो चुकी है और ला लीगा में भी टीम खिताबी दौड़ से करीब-करीब बाहर ही है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned