VIDEO: इसलिए की जाती हैं शस्त्र पूजा, इन्होंने बताई बड़ी वजह

Virendra Kumar Sharma | Updated: 09 Oct 2019, 11:33:57 AM (IST) Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

Highlights

. विजयदशमी पर की गई शस्त्रों की पूजा
. कार्यक्रम में शामिल हुए सैकड़ों कार्यकर्ता
. पिछले 20 साल से कंपनी बाग में की जाती है शस्त्रों की पूजा

 

गाजियाबाद. विजयदशमी के पर्व पर आरएसएस के स्वयं सेवकों ने कंपनी बाग में शस्त्रों की पूजा की गई। उसके बाद वंदे मातरम व भारत माता की जय का उद्घोष किया। सबसे पहले आरएसएस के कार्यकर्ताओं ने भारत माता के चित्र पर फूल और माला पहनाकर उनका तिलक किया।

यह भी पढ़ें: Big News: PM Modi पर हमले की धमकी देने वाला Al Qaeda का सरगना Asim Omar ढेर, यूपी के इस जिले में हुआ था पैदा

उसके बाद आरएसएस के संस्थापक डॉक्टर केशव राव बलीराम हेडगेवार के चित्रों पर फूल माला अर्पण की गई। यहां आरएसएस कार्यकर्ताओं ने शस्त्र रखकर विधिवत पूजा अर्चना की। कार्यकर्ता राजेश तिवारी ने बताया की 1925 में केशवराव हेडगेवार ने आरएसएस की स्थापना नागपुर में विजयदशमी के दिन हुई थी। पूरी दुनिया को शांति का संदेश दिया। राजेश तिवारी ने बताया कि विजयदशमी के दिन शस्त्रों की पूजा इसलिए की जाती है कि शस्त्र हमारी रक्षा करते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned