Ghaziabad: छत से कुछ इस तरह गिरी नवविवाहिता कि सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई फुटेज, मौत के 14 दिन बाद आई सामने- देखें वीडियो

Ghaziabad: छत से कुछ इस तरह गिरी नवविवाहिता कि सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई फुटेज, मौत के 14 दिन बाद आई सामने- देखें वीडियो

Nitin Sharma | Publish: Jul, 17 2019 07:30:45 PM (IST) Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • तीन महीने पहले ही महिला की हुई थी शादी
  • संदिग्ध परिस्थितियों में छत से गिरते समय सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना
  • परिजनों ने ससुराल पक्ष पर लगाया दहेज हत्या का आरोप

गाजियाबाद। तीन महीने पहले ही विवाह के बाद अपने ससुराल में आई नवविवाहिता की 3 जुलाई को संदिग्ध परिस्थितियों में छत से गिरकर मौत हो गई थी। इस मामले में मृतका के परिजनों ने ससुराल पक्ष पर दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को शिकायत दी थी। महिला की मौत के 14 दिन बाद घटना से जुड़ा एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। वही महिला के परिजनों का आरोप है कि जिस दिन से महिला की शादी हुई थी । उसके अगले दिन से ही महिला को दहेज के लिए प्रताडि़त किया जा रहा था।

 

तीन महीने पहले ही हुई थी महिला की शादी

जानकारी के अनुसार, विजय नगर इलाके में ही सृष्टि की अप्रैल माह में शादी हुई थी। परिवार का आरोप है कि शादी के अगले ही दिन से उनकी बेटी को ससुराल पक्ष के लोग दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे थे। जब मांग पूरी नहीं हुई तो उसे छत से नीचे फेंक दिया। जिसके बाद परिजनों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामले में ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज जांच शुरू की थी। इसी दौरान मृतका के परिजनों द्वारा आसपास में लगे सभी सीसीटीवी कैमरे खंगाले गये। इसमें एक घर में लगे सीसीटीवी की फुटेज सामने आई है। इसमें दिख रहा है कि महिला कैसे ऊपर से नीचे आकर गिरी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जिसके बाद उसके ससुराल पक्ष के लोग उसके शव को अंदर ले गये।

 

news

'बेटी को छत से दिया गया धक्का, अब तक मिल चुके हैं कई सबूत'

वहीं मृतका के परिजनों का आरोप है कि पुलिस को वीडियो फुटेज के अलावा हत्या से संबंधित कई सबूत मिल चुके हैं, लेकिन पुलिस कार्रवाई से बच रही है। परिजनों का आरोप है कि उनकी बेटी को उसके पति और ससुराल पक्ष के लोगों ने छत पर ले जाकर नीचे फेंका है। जिसके बाद उसका शव नीचे आ गिरा। नीचे गिरने के सीसीटीवी फुटेज भी सामने आई है। जो परिवार ने पुलिस को सौंप दी है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned