नारायण क्षेत्र की नींव में राम जन्मभूमि अयोध्या की मिट्टी डाली गई

पावन चिंतन धारा आश्रम में गुरुवार को नारायण क्षेत्र की स्थापना हुई. इसमें राम जन्मभूमि अयोध्या, कृष्ण जन्मभूमि मथुरा और बैलूर मठ कोलकाता से मिट्टी मंगाकर नींव में डाली गईं

By: shivmani tyagi

Published: 16 Jan 2021, 10:12 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद. पावन चिंतन धारा आश्रम में गुरुवार को नारायण क्षेत्र की स्थापना हुई. इसमें राम जन्मभूमि अयोध्या, कृष्ण जन्मभूमि मथुरा और बैलूर मठ कोलकाता से मिट्टी मंगाकर नींव में डाली गईं.

यह भी पढ़ें:

मंदिर में मूर्ति स्थापित करने के बाद डॉक्टर पवन सिन्हा समेत सभी लोगों ने पूजन किया. इसके बाद विक्रम संवत् 2077 पौष माह के कृष्ण पक्ष की द्वादशी को अखंड जप शुरू कर त्रयोदशी तक अखंड जप के साथ देवी-देवताओं की मूर्तियों की प्राण-प्रतिष्ठा की गई. इस प्रकार आश्रम में शक्ति क्षेत्र, शिव क्षेत्र के साथ नारायण क्षेत्र भी स्थापित हो गया.

यह भी पढ़ें:

स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस के उपलक्ष में आश्रम में आत्म निर्माण दिवस मनाया गया. डॉक्टर पवन सिन्हा समेत अन्य लोगों ने एक साथ मिलकर बच्चों को आसन, अनाज एवं खाद्य सामग्री आदि वितरित की. इस अवसर पर युवा अभ्युदय मिशन ने वेबिनार का आयोजन किया. इसमें ए. बालाकृष्णन ( अध्यक्ष, विवेकानंद रॉक मेमोरियल ) और अभिनेता मनोज जोशी ने 2040 तक भारतीय युवाओं के लक्ष्य’ विषय पर अपनी राय दी.

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned