यूपी के गाजियाबाद में फिर फैली धर्म परिवर्तन की अफवाह

Highlights

  • पुलिस ने की जांच तो निकली कोरी अफवाह
  • अफवाह फैलाने वालों पर हाेगी कार्रवाई

By: shivmani tyagi

Updated: 27 Oct 2020, 08:18 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
गाजियाबाद। जिले में अफ़वाहों का बाजार एक बार फिर गरम हो गया है। गांव करहैड़ा का धर्म परिवर्तन का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब एक बार फिर धर्म परिवर्तन किये जाने की अफवाह शहर में उड़ी है।

यह भी पढ़ें: गाजियाबाद की रहने वाली एमफिल की छात्रा से मेरठ के हाेटल में दुष्कर्म, वीडियो भी बनाई

इस बार नेहरू नगर में द-बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया ने सम्राट अशोक के लिए विजयदशमी पर बुद्ध वंदना और दीक्षा प्रमाण पत्र वितरण का आयोजन किया लेकिन उस दीक्षा सम्मान समारोह को अलग ही रंग दे दिया गया। पूरे इलाके और शहर में बात उड़ाई गई कि 100 परिवारों ने बोध धर्म अपना लिया है। कार्यक्रम में इन परिवारों के शपथ दिलाई गई जब यह अफवाह फैली ताे अधिकारी हरकत में आए और उन्होंने मौके पर पहुंच कर पूरे मामले की जांच की। जांच-पड़ताल में यह बात सामने आई है कि ऐसा कोई भी मामला नहीं है कार्यक्रम में पहुंचे लाेगाें काे केवल बौद्ध धर्म को लेकर जागरूक किया गया था धर्म परिवर्तन का काेई मामला नहीं था।

यह भी पढ़ें: यूपी के इस जिले में तीन दिन बाधित रहेगी बिजली आपूर्ति

करहैड़ा के मामले को लेकर पहले ही पुलिस अलर्ट है उसके बाद अब नेहरू नगर में मामला सामने आने के बाद पुलिस हरकत में आई। पुलिस ने कहा है कि जैसी अफवाह फैलाई जा रही है वैसा कुछ भी नहीं है। पुलिस ने अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील करते हुए अब उन लाेगाें के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है जिन्हाेंने इस तरह की अफवाह फैलाई है।

यह भी पढ़ें: दोस्त ने ही कराया था बड़ौत के लोहा व्यापारी का अपहरण, आठ गिरफ्तार

इस मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने आयोजकों से बात कर इस बात की पुष्टि की है। इस दैरान कार्यक्रम प्रबंधक समेत अन्य जिम्मेदार लाेगाें ने पुलिस काे बताया कि धर्म परिवर्तन जैसा कोई मामला नहीं है जिसके बाद अधिकारियों ने राहत की सांस ली है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned