script डीएम की बड़ी कार्यवाई, भ्रष्टाचार के आरोप में इन्हें किया गया निलंबित, बिना अनुमति के नहीं छोड़ेंगे मुख्यालय | Gonda DM big action lekhapal suspended on corruption charges | Patrika News

डीएम की बड़ी कार्यवाई, भ्रष्टाचार के आरोप में इन्हें किया गया निलंबित, बिना अनुमति के नहीं छोड़ेंगे मुख्यालय

locationगोंडाPublished: Feb 07, 2024 01:58:00 pm

Submitted by:

Mahendra Tiwari

डीएम ने भ्रष्टाचार के खिलाफ एक और बड़ी कार्यवाही करते हुए एक लेखपाल को फिर निलंबित कर दिया है। इसके साथ सख्त निर्देश दिए हैं कि बिना अनुमति के मुख्यालय ना छोड़े।

20240207_135603.jpg
डीएम गोंडा नेहा शर्मा
डीएम नेहा शर्मा ने भ्रष्टाचार के खिलाफ फिर एक बड़ी कार्यवाई करते हुए रिश्वत लेने के आरोप में एक लेखपाल को निलंबित कर दिया है। इसकी जांच सदर तहसीलदार को सौंप गई है। उन्हें 7 दिनों के भीतर जांच कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए हैं। निलंबन के दौरान आरोपी लेखपाल एसडीएम सदर के कार्यालय से सम्बद्ध रहेंगे। इसके साथ ही उन्हें बिना अनुमति के मुख्यालय ना छोड़ने का निर्देश दिया गया है।
जिलाधिकारी गोंडा नेहा शर्मा ने भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी कार्यवाई करते हुए लेखपाल को निलंबित कर दिया है। सदर तहसील के सालपुर क्षेत्र के लेखपाल द्वारा रिश्वत लिए जाने की शिकायत पर यह कार्यवाही की गई है। लेखपाल को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इस प्रकरण के जांच अधिकारी तहसीलदार गोण्डा को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए सात दिन का समय दिया गया है। बता दें, बीते दो दिनों में यह दूसरी कार्यवाही है। भ्रष्टाचार की शिकायतों पर कार्यवाही कर जिलाधिकारी ने साफ कर दिया है कि भ्रष्टाचार को किसी भी रुप में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जीरो टॉलरेंस नीति के प्रतिकूल आचरण स्वीकार्य नहीं होगा।
लेखपाल का फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था

गोंडा जिले के सदर तहसील के सालपुर क्षेत्र के लेखपाल संतोष शर्मा का एक वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इसमें, लेखपाल को पर रिश्वत लेने के आरोप लगाए गए। सोशल मीडिया में प्रकरण सामने आने के बाद जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने इसका तत्काल संज्ञान लिया। जिलाधिकारी के निर्देश पर उप जिलाधिकारी सदर सुशील कुमार ने संबंधित लेखपाल के निलंबन के आदेश जारी कर दिए गए हैं। काश्तकार से रिश्वत लेने तथा जिला प्रशासन एवं तहसील की छवि खराब करने तथा पदीय कदाचार एवं शासन की मन्शा के प्रतिकूल कार्य करने के लिए सन्तोष शर्मा को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया। उप जिलाधिकारी ने बताया कि निलम्बन की अवधि में सन्तोष शर्मा, लेखपाल उप जिलाधिकारी कार्यालय से सम्बद्ध रहेगें। एवं बिना अनुमति के मुख्यालय नहीं छोड़ेगें।

ट्रेंडिंग वीडियो