सड़क पर उड़ने लगे रुपये, राहगीरों में पैसे बटोरने की लगी होड़

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहरवासियों की ऐसी लौटरी लगी, जैसे किसी ने आसमान से पैसों की बारिश कर दी हो। दरअसल, गोरखनाथ क्षेत्र में खेतान हास्पिटल के पास मुनीब के हाथ से 85 हजार रुपये सड़क पर गिर गए।

By: Karishma Lalwani

Updated: 20 Nov 2020, 10:33 AM IST

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहरवासियों की ऐसी लौटरी लगी, जैसे किसी ने आसमान से पैसों की बारिश कर दी हो। दरअसल, गोरखनाथ क्षेत्र में खेतान हास्पिटल के पास मुनीब के हाथ से 85 हजार रुपये सड़क पर गिर गए। सड़क पर गिरकर उड़ रहे रुपये देखकर राहगीरों में बटोरने की होड़ मच गई। सभी एकाएक पैसे लूटने के लिए दौड़ पड़े। जिसे जितने नोट मिले उतने लेकर चला गया। उधर, रुपये गंवाने वाले व्यक्ती को जब इस बात की जानकारी हुई तो उसने पुलिस में कम्प्लेन की जिसके बाद उसके खोए रुपयों की तलाशी में पुलिस जुट गई। क्राइम ब्रांच के साथ पहुंची गोरखनाथ पुलिस ने छानबीन की तो भेद खुल गया।

रास्ते में गिरने लगे रुपये

सरहरी निवासी सेवा निवृत्‍त बैंक मैनेजर दुर्गा प्रसाद गोरखनाथ क्षेत्र के राजेंद्र नगर में रहते हैं। गुलरिहा क्षेत्र के महराजगंज चौराहे पर उनकी देसी शराब की लाइसेंसी दुकान है। दुकान की बिक्री के रुपये लेकर मुनीब विजय यादव टेंपो से अपने मालिक को देने राजेंद्र नगर स्थित आवास पर जा रहा था। बरगदवा चौराहे से आगे बढ़ने पर खेतान अस्पताल के पास पालीथिन फटने से उसमें रुखे रुपये सड़क पर गिरने लगे। रास्‍ते से गुजर रहे लोगों ने यह देखा तो लालच के मारे रुपये बंटोरने शुरू कर दिए। सड़क पर रुपये उड़ता देख लोग अपने वाहन रोक-रोकर रुपये बंटोरने लगे।

85 हजार हो चुके थे गायब

रुपयों के गायब होने की जानकारी पर उक्त व्यक्ति ने पुलिस में कम्प्लेन की। 1.28 लाख रुपयों में से 85 हजार गायब हो चुके थे। खबर मिलते ही पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर जांच शुरू कर दी। घटनास्थल के आसपास रहने वाले लोगों से पूछताछ करने पर सच्चाई मालूम हुई जिसके बाद पुलिस ने राहत की सांस ली। दुकान मालिक ने बताया कि 85 हजार रुपए सड़क पर गिरे थे। जिन्हें राह चलते लोग उठा ले गए। सीओ गोरखनाथ रत्‍नेश सिंह ने बताया कि लूट नहीं हुई थी। रुपये गिरने पर उक्त व्यक्ति ने झूठी सूचना दी थी।

ये भी पढ़ें: 50 से ज्यादा मासूमों को बनाया निशाना, सीबीआई की पकड़ में आए इंजीनियर का खुलासा, 10 साल तक यह लालच देकर करता रहा घिनौना काम

ये भी पढ़ें: खेत की जुताई के लिए युवक ढूंढ़ने गया था ट्रैक्टर, दूसरे दिन खेत में मिली लाश, हड़कम्प

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned