अब गोरखपुर में अपहरण, परचून कारोबारी के बेटे को अगवा कर मांगी एक करोड़ की फिरौती

क्राइम ब्रांच और एसटीएफ ने परचून कारोबारी के बेटे के अपहरण केस में तीन को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी।

गोरखपुर. कानपुर और गोंडा के बाद अब गोरखपुर में कक्षा छह के छात्र के अपहरण की घटना से हड़कंप मचा है। पिपराइच थाना क्षेत्र में परचून की दुकान वाले के बेटे का अपहरण करने के बाद एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई है। वहीं अपहरण की जानकारी मिलने के बाद से पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की टीम सक्रिय हो गई हैं। तीन लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। इस मामले में पुलिस ने मुर्गा कारोबारी, सिम बेचने वाले दुकानदार और प्रॉपर्टी डीलर को हिरासत में लिया है। इनसे पूछताछ की जा रही है।

घर से निकला था खेलने

पिपराइच थाना क्षेत्र के जंगल छत्रधारी गांव निवासी 14 साल के बलराम गुप्ता को अगवा कर एक करोड़ की फिरौती मांगी गई है। रविवार दोपहर बाद उसके घर पर फिरौती का फोन आने के बाद पुलिस, क्राइम ब्रांच के अलावा एसटीएफ टीम को भी लगाया गया है। जंगल धूसड़ से एक मुर्गा कारोबारी, मोबाइल सिम बेचने वाला दुकानदार और एक प्रॉपर्टी डीलर को हिरासत में लिया गया है। पुलिस पूछताछ करने में जुटी है। इसके अलावा बलराम के साथ खेलने वाले दोस्तों से भी बात कर जानकारी ली गई है। बलराम गुप्ता के पिता महाजन गुप्त घर में ही किराने की दुकान चलाते हैं। इसके साथ ही जमीन के कारोबार से भी जुड़े हैं। उनका बेटा बलराम दोस्तों के साथ खेलने निकला था और घर नहीं लौटा। उसी के बाद महाजन गुप्त के मोबाइल पर फिरौती के लिए फोन आया।

जल्द पकड़े जाएंगे आरोपी

वहीं अपहरण को लेकर एसएसपी डॉक्टर सुनील गुप्ता ने बताया कि बच्चा गायब है। फिरौती के लिए उसके पिता के पास फोन आया था। बच्चे की किडनैपिंग केस में एसटीएफ और क्राइम ब्रांच के साथ ही पुलिस की कई टीमें लगाई गई हैं। जल्द ही घटना का पर्दाफाश किया जाएगा और आरोपी पकड़ में आएंगे।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned