scriptElderly death due to cold, you should take care of these things | ठंड से बुजुर्ग की मौत, हाड़कपाती ठंड में आप भी रखें इन बातों का विशेष ध्यान | Patrika News

ठंड से बुजुर्ग की मौत, हाड़कपाती ठंड में आप भी रखें इन बातों का विशेष ध्यान

जनवरी की सबसे सर्द रात, सुबह छाया रहा घना कोहरा, विजिविलिटी 100 मीटर से भी कम, सर्दी ने दिखाया रौद्र रूप, न्यनूतम पारा 5.1 डिग्री पर, ठंड से बेसहारा बुजुर्ग की मौत

गुना

Updated: January 17, 2022 09:12:09 am

गुना. मध्यप्रदेश में ठंड का कोहराम मचा हुआ है, दिन दोगुनी तो रात में चोगुनी ठंड पडऩे से लोग कांपने लगे हैं, ऐसे में गुना जिले में एक बेसहारा बुजुर्ग की मौत भी हो गई है। इसलिए आप भी इस मौसम में हाड़कपाती ठंड से बचने के लिए कुछ इंतजाम जरूर रखें, ताकि आपके स्वास्थ पर किसी भी प्रकार का विपरित असर नहीं पड़े। मध्यप्रदेश में लगातार सोमवार को भी घना कोहरा छाया रहा, ऐसे में जनजीवन भी काफी अस्त व्यस्त रहा। पिछले सालों की तुलना में इस बार सर्दी का सितम कुछ ज्यादा ही सहना पड़ रहा है। नए साल की शुरुआत ही तेज ठंड का कहर बरस रहा है।

ठंड से बुजुर्ग की मौत, हाड़कपाती ठंड में आप भी रखें इन बातों का विशेष ध्यान
ठंड से बुजुर्ग की मौत, हाड़कपाती ठंड में आप भी रखें इन बातों का विशेष ध्यान

अगले तीन दिन ऐसा ही रहेगा मौसम
एक जनवरी को न्यूनतम तापमान 9.8 डिग्री रहा था। इसके बाद सर्दी का सिलसिला ऐसा शुरू हुआ कि 16 जनवरी को न्यूनतम तापमान 5 डिग्री तक पहुंच गया है। 9 जनवरी से तो दिन का अधिकतम तापमान सबसे कम 16.8 डिग्री दर्ज किया गया था। इससे लोगों को दिन में भी हाड़ कंपकंपाने वाली सर्दी का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार रात को ही घने कोहरे की शुरूआत हो गई जो अगले दिन रविवार को सुबह 11 बजे तक जारी रहा। इस दौरान दृश्यता 100 मीटर के करीब रही। वाहन चालकों को फ्रंट लाइट जलाने के बाद भी सामने से आ रहा वाहन तक नजर नहीं आ रहा था। मौसम विभाग ने अगले तीन दिन भी न्यूनतम तापमान 6 से 7 ड्रिग्री के बीच रहने की संभावना जताई है। हालांकि दिन के तापमान में कुछ बढ़ोतरी होने से सर्दी से कुछ हद तक राहत मिल सकेगी। जनवरी माह में अब तक की सबसे ठंडी रात रविवार को 5.1 डिग्री दर्ज की गई।

तेज ठंड ने कफ्र्यू जैसे हालात पैदा किए
रविवार सुबह जब लोग उठे तो उन्हें घर के बाहर बेहद घना कोहरा नजर आया। यह स्थिति सुबह 11 बजे तक जारी रही। सड़क पर इतना घना कोहरा था कि 100 मीटर दूर का वाहन बिल्कुल नजर ही नहीं आ रहा था। समय के साथ लोगों ने अपनी दुकानें तो खोल लीं लेकिन 12 बजे तक भी कोई ग्राहक नहीं पहुंचा तो आसपास के दुकानदार एकत्रित होकर अलाव तापते नजर आए। पत्रिका टीम ने शहर का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया तो सामने आया कि लगभग हर दूसरी दुकान पर लोग अलाव ताप रहे थे। रविवार की छुट्टी होने के बावजूद शहर में ठंड की वजह से कफ्र्यू जैसा नजारा देखने को मिला।
कृषि विभाग के अनुसार पिछले कुछ दिनों से पड़ रही तेज ठंड से फसल और सब्जी को कुछ नुकसान पहुंच रहा है। शनिवार की रात से न्यूनतम तापमान बहुत ज्यादा नीचे चले जाने से सरसों की फसल आड़ी हो गई है, तो वहीं धनिया खराब होने लगा है।

ठंड ने ली जान, बुजुर्ग के पास नहीं था रहने का ठिकाना
आखिरकार तेज ठंड ने एक बुजुर्ग की जान ले ही ली। शनिवार रात बहुत तेज ठंड थी, जिसे खुले आसमान के नीचे जीवन व्यतीत करने वाला एक बुुजुर्ग नहीं झेल पाया और मौत की आगोश में चला गया। बुजुर्ग बाजार में ही यहां वहां काम कर अपना पेट भरता था और फुटपाथ पर ही सो जाता था। पुलिस के अनुसार मृतक के भतीजे दिनेश प्रजापति निवासी बूढ़े बालाजी टेकरी रोड ने बताया कि चाचा मोटू प्रजापति (60) मंडी में किसी दुकान पर कार्य करते थे। वहीं सो जाते थे। घर नहीं आते थे। अपना गुजर-बसर यहां-वहां काम करके ही करते थे। पत्नी छोड़कर चली गई थी। माता पिता का देहांत बहुत पहले हो चुका था। पुलिस जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें : इंदौर में कैटरीना-होटल से शेयर की ऐसी फोटो-फैंस देखकर रह गए दंग

सर्द मौसम में जरूर रखें इन बातों का ध्यान
-बच्चे और बुजुर्ग को सिर से पांव तक गर्म कपड़े पहनाकर रखें।
-ठंड से राहत के लिए कुछ देर अलाव भी जलाएं।
-गर्म भोजन ही करें, अधिक ठंडा पानी पीने की जगह थोड़ा कुनकुना करके पीएं।
-जरूरत नहीं होने पर बाहर नहीं निकलें, इससे ठंड और कोरोना दोनों से बचाव होगा।
-गर्म पेय का सेवन जैसे चाय, काफी, सूप आदि दिन में तीन चार बार जरूर करें।
-घर में भी जूते चप्पल पहनकर रहें, ताकि जमीन की ठंडक से आप बचें रहें।
-इस मौसम में जितना अच्छा खाते पीते हैं, उतना ही सेहत को फायदा होता है, इसलिए इस मौसम में ड्राय फ्रूट, गर्म दूध, गुड़, तिल्ली की गजक, खराक, पिंड खजूर आदि का सेवन करना चाहिए, इनसे शरीर में भी गर्मी रहती है।
-इसके बाद भी स्वास्थ्य गड़बड़ होता है, तो देर न करें, तुरंत चिकित्सक को दिखाएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.