फिर बदला मौसम का मिजाज, शाम को हुई जिलेभर में आंधी और बूंदा-बांदी

फिर बदला मौसम का मिजाज, शाम को हुई जिलेभर में आंधी और बूंदा-बांदी

By: दीपेश तिवारी

Published: 16 May 2018, 11:05 AM IST

गुना। जिले में दोपहर को जहां उमस भरी गर्मी से लोगों का हाल बेहाल रहा, वहीं शाम के समय तेज हवाओं के साथ शहर एवं जिले के आसपा क्षेत्रों में हुई बूंदा-बांदी ने लोगों को थोड़ी राहत दी।

जिले के बीनागंज क्षेत्र में तेज हवाओं के चलते एक पुराना नीम का पेड़ मकान पर धराशायी हो गया, तो बमोरी और राघौगढ़ में भी तेज हवाओं के साथ बारिश रिकार्ड की गई। मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार दिन का अधिकतम तापमान 42.6 डिग्री रिकार्ड किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान 28.3 डिग्री सेल्सियस रहा। दोपहर के समय नम हवाओं के साथ गर्म मौसम में लोगों को उमस से परेशान होना पड़ा।

इस दौरान लोग चिपचिपी गर्मी से हाल-बेहाल नजर आए। वहीं दूसरी तरफ देर शाम तेज हवाओं ने मौसम का रुख अचानक बदल दिया। शहर में करीब आधा घंटा तक धूलभरी आंधियां चलीं और इसके बाद हल्की बूंदा-बांदी भी हुई। तब कहीं जाकर लोगों ने चिपचिपी गर्मी से थोड़ी बहुत राहत की सांस ली। इधर बीनागंज क्षेत्र में भी तेज हवाओं के चलते पुराना नीम का पेड़ एक मकान पर धराशायी हो गया।

इससे मकान के कुछ हिस्से को नुकसान पहुंचा है। हालांकि किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है। जबकि राघौगढ़ और बमोरी ब्लाक में भी तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। इधर ग्रामीण क्षेत्रों में पानी गिरने की खबर के बाद दशहरा मैदान और मंडी परिसर में खड़े उपज विक्रेताओं को भी परेशानी उठानी पड़ी। किसानों को तत्काल बरसाती आदि खरीदकर ट्रालियों को ढंकना पड़ा। बार-बार मौसम में परिवर्तन आने से मंडी में खुले में रखे अनाज पर संकट छा गया है। किसानों ने बताया कि इसे जल्द से जल्द सुरक्षित रखने की आवश्यकता है।

लाइट जाते ही बिजली हुई गुल
हर बार की तरह इस बार भी तेज हवाओं की शुरुआत के साथ ही बिजली सप्लाई बंंद हो गई। भोपाल स्थित बिजली कंपनी के कंट्रोल रूम के मुताबिक 33 केवीए फीडर पर फाल्ट आने के कारण बिजली सप्लाई बाधित हुई, जो करीब एक घंटे बाद आई। तब कहीं जाकर लोगों ने राहत की सांस ली। तब तक परेशानी का सामना करना पड़ा।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned