अब गांव को स्वच्छ बनाने ग्रामीण सीखेंगे कचरा प्रबंधन

वेस्टेज मटेरियल से महिला स्वसहायता समूह जैविक खाद बनाकर बनेंगी सशक्त
पंचायत मंत्री ने बमौरी में स्वच्छागृह प्रोजेक्ट का किया शुभारंभ
कचरा संकलन गाड़ी चलाकर पंचायत मंत्री ने दिया स्वच्छता का संदेश

By: Narendra Kushwah

Published: 11 Jan 2021, 10:33 PM IST

गुना. ग्रामीण परिवेश को कचरा प्रबंधन के जरिए साफ. सुधरा एवं स्वच्छ बनाएंगे। यही नहीं इसका उपयोग महिला स्वसहायता समूहों को आर्थिक रूप से सशक्त एवं समृद्धशाली बनाने में भी करेंगेे। यह बात पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने सोमवार को बमौरी कस्बे में स्वच्छ भारत भूमि अभियान अंतर्गत स्वच्छागृह प्रोजेक्ट के शुभारंभ अवसर पर कही। यही नहीं उन्होंने ग्रामीणों को गीले और सूखे कचरे को अलग-अलग करने और जैविक खाद बनाने की समझाइश भी दी। ग्रामीणों से सवाल करते हुए कहा कि सबको अपने घर के साथ-साथ अपना मोहल्ला, अपना गांव स्वच्छ रखना चाहिए कि नही।
गांव स्वच्छ और सुंदर हों इसके लिए सबको मिलकर काम करना होगा। घर की माताएं बहनें घर के सभी कोनों से कचरा निकाल लेती हैं और दरवाजे में जो नाली होती है उसमें पटक देती हैं। इससे घर तो स्वच्छ हो गया लेकिन नाली जाम हो गयी। और जब नाली जाम होती है तो कितना भी अच्छा खरंजा बनवा लो पूरी गंदगी खरंजे पर आ जाती है। जो कचरा घर निकालते हो उसे इक_ा कर लो। गीले और सूखे कचरे को अगल अलग इक_ा करें।
उन्होंने स्पष्ट करते हुए बताया कि यह कार्यक्रम इसलिए महत्वपूर्णं है क्योंकि इससे दो फायदे हो रहे हैं। एक तो नाली व गांवों की सफाई होने से स्वच्छता मिलेगी। दूसरी फायदा इस कचरे के माध्यम से रोजगार भी मिलेगा और पैसा कमाने का अवसर मिलेगा। जो कचरा इक_ा होगा उससे जैविक खाद बनाएंगे और घर के चूल्हे से निकलने वाली राख से राखड़ बैंक बनाएंगे। जिससे ईट बनाई जा सकती है। यह कार्य भी महिला स्वसहायता समूहों को ही दिया जाएगा। ताकि उनकी तरक्की के रास्ते और खुलेंगे।

बमोरी की स्वच्छता आगे चलकर मिसाल बने
कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम ने कहा कि ग्रामीण स्वच्छता की शुरूआत बमोरी से हुई है। यह अपने आप में एक बहुत बड़ा लक्ष्य है। बमौरी की स्वच्छता आगे चलकर मिसाल बने। बमौरी अगर इस क्षेत्र में आगे आएगा तो गुना जिले का भी सम्मान बढेगा। और सबको लगेगा कि वास्तव में यह एक सार्थक प्रयास हुआ है। अंत में उपस्थितजनों को ग्राम की भावी पीढ़ी को स्वच्छ रखने के लिए स्वच्छता रखने तथा नारी का सम्मान करने का संकल्प दिया गया। बाद में पंचायत मंत्री सिसौदिया स्वयं कचरा गाड़ी चलाकर रैली के रूप में ट्रन्चिंग गाउण्ड तक पहुंचे। यहां साफ. सफाई कर संकलित कचरे को गड्ढे में डालकर स्वच्छता के प्रति सजग रहने का संदेश आमजन को दिया।
कार्यक्रम के अंत में कचरा प्रबंधन और जैविक खाद बनाने की विधि का पॉवर प्वाइंट के माध्यम से प्रजेंटेशन भी दिया गया। इस अवसर पर क्षेत्र के स्थानीय जनप्रतिनिधि, बडी संख्या में ग्रामीणजन, महिला स्वसहायता समूह की महिलाएं मौजूद रही।

Narendra Kushwah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned