Meghalaya: काली कमाई निकली पानी की टंकियों से

Meghalaya: काली कमाई निकली पानी की टंकियों से
black money seize

Yogendra Yogi | Updated: 11 Aug 2019, 05:47:23 PM (IST) Guwahati, Kamrup Metropolitan, Assam, India

Meghalaya: आयकर विभाग के पूर्वोत्तर क्षेत्र (एनईआर) के जांच प्रकोष्ठ ने मेघालय में कुछ कारोबारियों के ठिकानों पर तलाशी ली। नकदी पानी की टंकी जैसे अप्रत्याशित स्थान से जब्त।

Meghalaya: शिलांग, आयकर विभाग के पूर्वोत्तर क्षेत्र (एनईआर) के जांच प्रकोष्ठ ने मेघालय में कुछ कारोबारियों के ठिकानों पर तलाशी ली। ये कारोबारी राज्य में बेनामी संपत्ति के तौर पर पेट्रोल पंप चलाते पाए गए हैं। एनईआर के जांच प्रकोष्ठ ने त्वरित रूप से समन्वित कार्रवाई करते हुए मेघालय में कुछ कारोबारियों के यहां तलाशी अभियान चलाया।

दो करोड़ बरामद
मंत्रालय ने कहा है कि ये लोग कम बिक्री बताकर और वसूल किये गए स्थानीय कर को जमा नहीं कराकर राज्य सरकार को वैधानिक राजस्व से वंचित कर रहे थे। साथ ही आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 10 (26) के तहत जनजातीय लोगों को मिली छूट का दुरुपयोग कर बड़े पैमाने पर कर चोरी में शामिल रहे। इस कार्रवाई के तहत दो करोड़ रुपये से अधिक की बिना हिसाब-किताब की नकदी जब्त की गयी है।

टंकियों से निकले नोट

अधिकारियों ने साथ ही दस्तावेज भी जब्त किये हैं। यह नकदी पानी की टंकी जैसे अप्रत्याशित स्थान से जब्त किये गए हैं। मंत्रालय ने कहा है, इन बेनामी पेट्रोल पंपों के पर्दाफाश के बाद खासी हिल्स स्वायत्त जिला परिषद (केएचएडीसी) की कार्यकारी समिति (ईसी) ने आठ अगस्त, 2019 को मीडिया से कहा कि राज्य में बेनामी लेनदेन को रोकने के लिए तत्काल कदम उठाये जाएंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned