70 कैमरों में से 30 खराब, कैसे हो रेलवे स्टेशन की सुरक्षा

70 कैमरों में से 30 खराब, कैसे हो रेलवे स्टेशन की सुरक्षा

Prashant Sharma | Publish: Sep, 04 2018 06:57:49 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

आरपीएफ में लगे 15 कैमरे पांच माह बाद भी नहीं हो पाए शुरू

ग्वालियर. रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा के लिए लगाए कैमरे इन दिनों शो- पीस बनकर रह गए है। स्टेशन पर आरपीएफ, जीआरपी और रेलवे के कैमरे लगे हुए है। चारों ही प्लेटफॉर्म पर इन एजेंसियों ने अपने कैमरे विभिन्न स्थानों पर लगाए है। रेलवे के कैमरों की हकीकत यह है कि इन कैमरों में घर परिवार के लोग भी अपने लोगों को देख नहीं सकते है। रेलवे के कैमरों की क्वालिटी इतनी खराब हो चुकी है कि यह मात्र अब गिनती ही बढ़ा सकते है। वहीं अभी हाल ही में आरपीएफ ने अपने १५ कैमरे विभिन्न प्लेटफॉर्म पर सुरक्षा के लिए लगाए है। इन कैमरों को पांच माह बाद भी शुरु नहीं किया गया है। इससे सुरक्षा व्यवस्था पर सवालियां निशान लग रहा है। दो माह पहले जीआरपी ने प्लेटफॉर्म के साथ सर्कुलेशन एरिया और प्लेटफॉर्म के खत्म होने वाले स्थानों पर 32 कैमरे लगाए है। उनकी हालात यह है कि अधिकांश कैमरे प्लेटफॉर्म की अपेक्षा बाहरी क्षेत्र में लगे है। जिससे अगर प्लेटफॉर्म पर कोई घटना होती है कि इन कैमरों में यात्री नहीं आ पाते है।
16 कैमरे लाइट जाते ही हो जाते है बंद

जीआरपी ने 32 कैमरे लगाए हैं। इन कैमरों में से 16 कैमरे एेसे है जो केवल स्टेशन पर लाइट होने के समय ही चलते हैं। एेसे में जब बिजली गुल होती है तो कैमरे भी बंद हो जाते है। अभी कुछ दिन पहले ही जीआरपी कार्यालय में तीन दिनों तक लाइट नहीं रही। जिससे चलते कैमरे भी बंद हो गए थे । रेलवे ने जीआरपी को इन्वेटर की लाइट से नहीं जोड़ा है। एेसे में आए दिन लाइट जाते ही कैमरे बंद हो जाते है।

कितने किसके कैमरे
रेलवे 15
जीआरपी 32
आरपीएफ 23

इनका कहना है
रेलवे स्टेशन पर हमारे १५ कैमरे तो पांच माह पहले लगे हैं, लेकिन अभी तक कंपनी ने शुरू नहीं किए हैं। जिसके कारण काफी परेशानी आ रही है। इसके लिए कंपनी को पत्र भेजा है।
घनश्याम मीणा, सहायक कंमाडेंट, आरपीएफ

Ad Block is Banned