विधायक प्रवीण पाठक ने मेरा रोजगार छीना, कांग्रेस पदाधिकारी ने कहा आत्महत्या कर लूंगा

विधायक प्रवीण पाठक ने मेरा रोजगार छीना, कांग्रेस पदाधिकारी ने कहा आत्महत्या कर लूंगा

Gaurav Sen | Publish: Aug, 13 2019 01:50:56 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

विधायक ने बेरोजगार कर दिया है। बाड़े पर जब सभी के ठेले लग रहे थे तब उसे ठेला नहीं लगाने दिया गया।

ग्वालियर। महाराज बाड़े पर ठेला लगाने वाले कांग्रेस के पदाधिकारी आनंद अग्रवाल ने विधायक प्रवीण पाठक पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उसे विधायक ने बेरोजगार कर दिया है। बाड़े पर जब सभी के ठेले लग रहे थे तब उसे ठेला नहीं लगाने दिया गया। अग्रवाल ने इसकी शिकायत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं सहित जिलाध्यक्ष से भी की है।

आनंद अग्रवाल का सोमवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें आनंद अग्रवाल द्वारा विधायक पाठक पर आरोप लगाते हुए कहा गया है कि महाराज बाड़े पर सभी दुकानदारों को दुकाने लगाने दी गई लेकिन विधायक पाठक ने निगम कर्मियों के मार्फत उसे प्रताडि़त कर उसकी दुकान नहीं लगने दी। इसकी शिकायत उसने वरिष्ठ नेताओं एवं जिलाध्यक्ष से की लेकिन इसका कोई परिणाम नहीं निकला। अगर मुझे ज्यादा परेशान किया तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। इसके लिए विधायक जिम्मेदार होंगे।

अग्रवाल का यह भी कहना था कि निगम के टीसी शशीकांत शुक्ला विधायक के इशारे पर उसकी दुकान नहीं लगने दे रहे हैं। सोमवार को जब जिलाध्यक्ष से शिकायत की तो उन्होंने आयुक्त को कहा कि इसे अकेले को क्यों दुकान नहीं लगाने दी जा रही है। इसके बाद भी उसे दुकान नहीं लगाने दी गई। बाद में वह हिम्मत जुटाकर वहां पहुंच गया लेकिन उसे हटवा दिया गया।

आयुक्त से कहा था विचार करें
मुझे अग्रवाल ने कहा था कि बाड़े पर उसकी दुकान नहीं लगने दी जा रही है जबकि अन्य लोगों की दुकान लगा दी गई है, इस पर मैंने आयुक्त निगम से कहा था कि अग्रवाल को भी दुकान लगाने दें। बाकी उनका विवाद क्या है इसकी मुझे जानकारी नहीं है।
डॉ. देवेन्द्र शर्मा, जिलाध्यक्ष कांग्रेस

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned