दो पक्षों में खूनखराबा : लॉकडाउन के बीच धनाधन फायर,वीडियो बनाने वाले को लड़कों ने दी धमकी, VIDEO

dispute between two groups turns into serious battle in gwalior : रंगबाजों ने दो तमंचो से पांच फायर ठोंके। लोग गोलियांे के सामने आने की हिम्मत तो नहीं कर पाए लेकिन गुंडई को मोबाइल

By: Gaurav Sen

Updated: 12 May 2020, 07:33 PM IST

@ ग्वालियर.

मुंहवाद पर पुरानी दुश्मनी का बदला लेने के लिए सोमावर को रंगबाजो ंने रामाजी का पुरा में दुश्मन का घर घेर कर उसे पीटा,मौहल्ले वाले उसे बचाने के लिए बीच में नहीं बोल सकें इसलिए गोलियां चलाईं। रंगबाजों ने दो तमंचो से पांच फायर ठोंके। लोग गोलियांे के सामने आने की हिम्मत तो नहीं कर पाए लेकिन गुंडई को मोबाइल में रिकार्ड कर फुटेज पुलिस को थमा दिए। लाॅकडाउन मंे वारदात का पता चलने पर पुलिस बदमाशों को दबोचने के लिए बस्ती में घुसी लेकिन उसके पहुंचने से पहले गुंडई करने वाले गलियों में घुसकर भाग गए।

आशिक खां निवासी मेवाती मौहल्ला ने बताया कि वह यातायात नगर में बेल्डिंग का काम करता है। बस्ती में रहने वाले विक्की जाटव से उसकी करीब एक महीने पहले कहासुनी हो गई थी। विक्की बस्ती में अपना सिक्का जमाना चाहता है,दुश्मनी नहीं पनपे इसलिए मुंहवाद के मसले को निपटाने के लिए विक्की से माफी मांगकर राजीनामा भी कर लिया था। इसके बावजूद विक्की दुश्मनी ठान कर बैठा था। लाॅकडाउन की वजह से दुकान बंद है तो सोमवार को धर पर दोस्त अरमान और राहिल के साथ शटर बेल्डिंग कर रहा था। दोपहर करीब ढाई बजे विक्की , इमरान, आकाश, धंसू, लल्ला करीब 10-12 लोगों की टोली बनाकर आए। इन लोगों ने घर की तरफ आने वाले दोनों रास्तो ंको घेर कर हमला किया। लाठियों ने मारपीट की। फिर हावी होने के लिए तमंचे से गोलियां चलाईं। पुलिस ने बताया कि हमले में आशिक का सिर फट गया जबकि उसके दोनों साथी भी चोटिल हो गए।

रामाजी का पुरा में मौहल्ले की रंगबाजी को लेकर संघर्ष में कुछ और वीडियो भी पुलिस के सामने आए हैं , इनमें आशिक के घर के आसपास रहने वाले भी हथियार लहाराते घूमते दिखे हैं। वीडियो में मौहल्ले वालों की पहचान नहीं हो इसलिए कटटे लेकर घरों से निकलने वाले वीडियो बनाने वालों को रोकते भी दिखे है। इन फुटेज को देखकर पुलिस अब इस आशंका से इंकार नहीं कर रही है कि दोनों पक्षों में संघर्ष हुआ है। जो लोग हथियार लहराते हुए दिख उनकी भी पहचान और आशिक से उनके ताल्लुक का पता लगाया जा रहा है।

मौहल्ले का डाॅन बनना चाहता है
रईसखां ने बताया कि विक्की जाटव बस्ती का डाॅन बनना चाहता है इसलिए लोगों को जबरिया धमकाता रहता है। पिछले कुछ दिनों से आशिक को टारगेट कर रहा था। रविवार रात को भी इन लोगों ने उसे घेरने की कोशिश की थी। लेकिन नाकाम रहे तो दोपहर को प्लानिंग से हमला किया।

गोलियों से दहशत, बस्ती वालों ने बनाए वीडियो
बस्ती वालों ने बताया कि लाॅकडाउन की वजह से ज्यादातर लोग घरों में है इसलिए दोपहर को घनी बस्ती में सन्नाटा था। गोलियांे के धमाके सुने तो लोग डर गए। बाहर झांका तो विक्की उसके साथी आशिक पर हमला कर रहे थे। उन्हें बचाने के लिए हल्ला मचाया तो रंगबाज भांप गए कि मौहल्ले वाले उनकी मदद के लिए आ सकते हैं, इसलिए तमंचो से गोलियां चलाई। उनकी हरकत का लोगों ने वीडियो भी बनाया है।

 

जख्मी साथी लेकर थाने पहुंचे
आशिक और उसके जख्मी साथियों को पुलिस थाने ले गई तो विक्की के समर्थक भी एक युवक को चोटिल हालत में लेकर थाने आ गए। उनका कहना था कि आशिक और उसके साथियों ने इस ेमारा है। पुलिस का कहना है कि उनकी बात की तस्दीक की जा रही है।

हत्या के प्रयास का केस दर्ज, तलाश
आरोपियों पर धारा 308 के तहत मामला दर्ज किया है, जिनके नाम सामने आए उनकी तलाश में दविश दी जा रही है। इसके अलावा वारदात में कौन शामिल था बस्ती वालों ने जो वीडियो पुलिस को दिए हैं उनके आधार पर आरोपियों को तलाशा जा रहा है।
नागेन्द्र सिंह सीएसपी ग्वालियर सर्किल

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned