आइडिया पर काम करने के पहले मार्केट में रिसर्च के साथ नवीनता पर दें ध्यान

विशेषज्ञों ने इनोवेटर्स को आइडिया जनरेशन, पेंटेट राईट, स्र्टाटअप और आंत्रप्रेन्योरशिप के बारे में बताया ।

By: Avdhesh Shrivastava

Updated: 27 Apr 2019, 07:22 PM IST

ग्वालियर. जीवाजी यूनिवर्सिटी के इनोवेशन एवं इक्यूवेशन सेंटर में एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया। इसमें शहर के युवाओं ने अपने आइडियाज पर विशेषज्ञों के साथ विचार विमर्श किया और अपनी जिज्ञासाओं का समाधान भी किया। सत्र में विशेषज्ञों ने इनोवेटर्स को आइडिया जनरेशन, पेंटेट राईट, स्र्टाटअप और आंत्रप्रेन्योरशिप के बारे में बताया । आइडिया को अनुसंधान में परिर्वतत करने कि प्रक्रिया समझाई गई। एक्सपर्ट ने बताया कि आइडिया पर काम शुरू करने से पहले मार्केट रिर्सच करें। प्रोडेक्ट की उपयोगिता के साथ-साथ इसकी नवीनता पर ध्यान देने तथा मार्केट गैप का सर्वे करने कि प्रक्रिया भी समझाई गई। अगली कड़ी में प्रोडक्ट का प्रोटोटाइप तैयार करने, उसको टेस्ट करने और रजिस्ट्रेशन करवाने कि प्रक्रियश के बारे में बताया गया। सुझाव दिया गया कि अपने प्रोडक्ट को मार्केट में लांच करने से पहले इसका रजिस्ट्रेशन पेंटेंट या टेडमार्क करवाना जरूरी होता है।
प्रोसेस के साथ स्टार्टअप शुरू करें : आगामी कड़ी मे प्रोडक्ट को बेहतरीन तरीके से मार्केट में लाने का प्रोसेस बताया। उन्होंने बताया कि यदि आप प्रोसेस के साथ आगे बढ़ते हैं, तो आपके स्र्टाटअप के सफ ल होने को संभावनाएं काफ ी बढ़ जाती हैं। कार्यक्रम में लगभग 20 आइडिया पर चर्चा की गई, जिसमें से प्रत्येक पर आगे अपनाई जाने बाली प्रक्रिया की रूपरेखा बनाकर दी गई । सेंटर इन आइडियों को प्रोडक्ट में परिवर्तित करने के लिए जो भी संभव होगा सहायता प्रदान करेगा और लगातार फ ॉलोंअप लिया जाएगा।

Avdhesh Shrivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned