मुरार नदी अतिक्रमण : लोगों ने लगाए प्रशासन पर आरोप, बोले- अमीरों को छोड़ दिया गरीबों को किया परेशान

मुरार नदी अतिक्रमण : लोगों ने लगाए प्रशासन पर आरोप, बोले- अमीरों को छोड़ दिया गरीबों को किया परेशान

Gaurav Sen | Publish: Jun, 15 2019 11:48:19 AM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

सवालों का जवाब नहीं दे सके अधिकारी

ग्वालियर. मुरार नदी के सौंदर्यीकरण के लिए प्रशासन और नगर निगम द्वारा नदी क्षेत्र से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई महज खानापूर्ति साबित हो रही है। नगर निगम द्वारा अवैध निर्माण चिन्हित करने की बात तो कही जा रही है, लेकिन रसूखदारों पर कार्रवाई करने से बच रही है। यही कारण है कि शुक्रवार को भी प्रशासन और निगम ने काल्पी ब्रिज के पास बने होटल और रास्ते में पडऩे वाले स्कूल और मकानों को नहीं हटाया।

लोगों का कहना था कि अगर नदी के सौंदर्यीकरण का प्रोजेक्ट हुरावली से काल्पी तक का है तो फिर कार्रवाई बीच में क्यों की जा रही है। हालांकि अधिकारी इसका जवाब नहीं दे पाए और यहां वहां खिसक गए। नगर निगम और प्रशासन की टीम को काल्पी ब्रिज से कार्रवाई शुरू करना था लेकिन टीम वहां न जाकर फिर से शहीद गेट पर पहुंची। यहां जेसीबी से खेतों में उगाई सब्जी की फसल को तहस नहस किया तो वहीं खेतों की बाड़ भी तोड़ दी। लोगों ने इसका विरोध भी किया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

लेखाधिकारी बोले- पहले सीमांकन करो

इस दौरान यहां पूर्व निगम लेखाधिकारी दिनेश बाथम पहुंचे और उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अगर कार्रवाई करना है तो करो लेकिन पहले नदी का सीमांकन तो करिए। हमारे पास जो जमीन है अगर उसमें से प्रशासन को नदी के सौंदर्यीकरण प्रोजेक्ट के लिए जगह चाहिए भी होगी तो हम देंगे। लेकिन हर बार हमारे यहां भी कार्रवाई होती है जबकि प्रोजेक्ट हुरावली से काल्पी ब्रिज तक का है। अगर कार्रवाई करना ही थी तो काल्पी या फिर हुरावली से करते। जब भी कार्रवाई होती है प्रशासन शहीद गेट के पास ही कार्रवाई करता है। रसूखदार जिन्होंने अतिक्रमण किया है उन्हें अभी तक नहीं हटा पाए।

फसल तो ले लेने देते, तहस-नहस कर दिया
नदी क्षेत्र में किराए की जमीन लेकर सब्जी उगाने वाली फूलवती बाथम के खेत में लगी बाड़ को मदाखलत अमले ने जेसीबी से तोड़ दिया। सब्जी को भी तहस नहस कर दिया। इस पर फूलवती का कहना था कि कार्रवाई करना था तो कर देते लेकिन फसल तो ले लेने दो। मेहनत कर फसल उगाई और इस तरह से उजाड़ दी।

encroachment free drive over murar river in gwalior

यहां...नालों पर अतिक्रमण, बारिश में बिगड़ते हैं हालात

काल्पीब्रिज नाले पर अतिक्रमण
शहर में नालों पर कई जगह अतिक्रमण कर लिया गया है। हालात यह हैं कि नालों को संकरा करके बड़ी-बड़ी इमारतें खड़ी हो गई हैं। दबंगों के प्रभाव में निगम और प्रशासन भी उदासीन है। लेकिन इसका खामियाजा बारिश के दिनों में शहर की जनता को उठाना पड़ता है, जिसके चलते कई निचले इलाकों में जलभराव के हालात बन जाते हैं। यह हाल कई नालों का है। (नालों की हालत पर खबर देखें पेज-4)

encroachment free drive over murar river in gwalior

कार्रवाई में नहीं दिखी गंभीरता
नदी क्षेत्र से अतिक्रमण हटाने प्रशासन और निगम अधिकारी मदाखलत अमले के साथ पहुंचे थे लेकिन कार्रवाई में कोई गंभीरता नहीं दिखाई दी। आलम यह था कि जेसीबी खड़ी कर चालक ही चले गए। काफी देर बाद चालक आए और कार्रवाई शुरू की।

मूली लूटने में लग गए निगम कर्मचारी
फूलवती के खेत पर जैसे ही जेसीबी चली तो वहां मूली को लूटने वालों की लाइन लग गई। इसमें कुछ तो कर्मचारी भी शामिल थे। फूलवती और उसके पति संजय बाथम ने वहां पास में ही खड़े पुलिसकर्मियों से कहा कि आपके सामने ही लोग मूली लूट रहे हैं इन्हें भगाते क्यों नहीं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned