सतर्क रहे ग्वालियर: बारिश में सामने आए मौत के गड्डे, क्योंकि अगर कहीं फिसले तो जीवन समाप्त भी हो सकता है

सतर्क रहे ग्वालियर: बारिश में सामने आए मौत के गड्डे, क्योंकि अगर कहीं फिसले तो जीवन समाप्त भी हो सकता है

Gaurav Sen | Publish: Sep, 04 2018 10:56:32 AM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

सतर्क रहे ग्वालियर: बारिश में सामने आए मौत के गड्डे, क्योंकि अगर कहीं फिसले तो जीवन समाप्त भी हो सकता है

ग्वालियर। शहर की सडक़ों पर चलना अब जोखिम भरा हो गया है। घटिया निर्माण के कारण बारिश से सडक़ों की दशा इस कदर बिगड़ गई है कि हर जगह गड्ढे ही गड्ढे दिखाई दे रहे हैं। इससे शहर के लोग परेशान हैं, वहीं सबसे ज्यादा दो पहिया वाहन गड्ढों में लडख़ड़ाकर गिर रहे हैं।

बरसात ने सडक़ों की गुणवत्ता की पोल खोलकर रख दी है, इसके बावजूद नगर निगम के अफसरों ने सडक़ों की कोई सुध नहीं ली है। यह हालात तब हैं जब उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया अफसरों को कार्रवाई करने की हिदायत दे चुके हैं, बावजूद इसके शहर की सडक़ों पर काम होते दिखाई नहीं दे रहा है। सडक़ों के गड्ढों को लेकर मछली पकडऩे का प्रदर्शन कर अपना विरोध जता चुकी है, फिर भी शहर के लोगों का दर्द कम करने कोई आगे नहीं आ रहा है।

स्पॉट-1
चेतपुरी रोड के भी हालात खराब हैं, जबकि यह कॉलोनी भी शहर की पॉश कॉलोनियों में शामिल है। इसके बावजूद लोगों का यहां से निकलना भी मुश्किल हो गया है।

स्पॉट-2
बसंत विहार के मोड़ पर सडक़ उखड़ जाने से लोगों का निकलना मुश्किल हो रहा है, जबकि यह शहर की सबसे पॉश कॉलोनियों में शामिल है।

भ्रष्टाचार की सडक़ें
जो सडक़ें उखड़ी हैं, उनमें भारी भ्रष्टाचार हुआ है। २० से ३० प्रतिशत ब्लो रेट पर सडक़ें बनाने का ठेका हो जाता है। इंजीनियर ठेकेदार से मिलकर बिलों का भुगतान करा देते हैं। गारंटी अवधि में सडक़ों के टूटने पर उनकी मरम्मत नहीं कराई जाती, गारंटी खत्म होते ही फिर से सडक़ बनाने का टेंडर लग जाता है। यह पूरा रैकेट सडक़ बनाने वाले कुछ ठेकेदार और निगम अफसरों के बीच चल रहा है।
कृष्णराव दीक्षित, नेता प्रतिपक्ष, नगर निगम

कराएंगे जांच
जितनी भी सडक़ें गारंटी खत्म होते ही उखड़ी हैं, उनके टेंडर की कार्रवाई की गई है। एेसे सभी मामलों की जांच कराई जाएगी। लोगों को सडक़ पर चलने में परेशानी न हो, इसके लिए हम अफसरों से जवाब मांगेंगे।
धर्मेंद्र राणा, जनकार्य प्रभारी, नगर निगम

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned