नक्शा, दस्तावेज लिए बिना सीवर की योजना बनाने चार घंटे घूमते रहे अफसर

निगम के अफसर बिना दस्तावेज, नक्शा और डीएमए साथ लिए न्यू कलक्ट्रेट और उसके आसपास के इलाके में चार घंटे तक निरीक्षण के नाम पर घूमते रहे।

By: Rahul rai

Updated: 03 Feb 2019, 07:55 PM IST

ग्वालियर। अमृत योजना में हुए करीब 50 लाख से ज्यादा के घोटाले की जांच की मांग को लेकर निगम परिषद में हंगामा हुआ और पार्षदों ने उन्हें उनके वार्डों में होने वाले कार्यों की जानकारी से अवगत कराने की मांग भी की, लेकिन एक सप्ताह के आश्वासन के बाद भी पार्षदों को जानकारी नहीं दी गई। वहीं निगम के अफसर बिना दस्तावेज, नक्शा और डीएमए साथ लिए न्यू कलक्ट्रेट और उसके आसपास के इलाके में चार घंटे तक निरीक्षण के नाम पर घूमते रहे।


इस दौरान अफसर बिना दस्तावेज देखे निरीक्षण करते रहे, वहीं कहां ग्रेविटी से पानी जाएगा, कहां मिलान होगा, यह सब कुछ बिना कागजी नक्शे देखे अफसर बातों ही बातों में तय करते रहे। इस दौरान गोविंदपुरी से सिरोल चौराहे के मार्ग पर बीच में खुदाई नहीं करते हुए साइड में सीवर बिछाने के निर्देश दिए। वहीं उक्त 30 मीटर चौड़े मार्ग पर किए गए अतिक्रमण को हटाने के भी निर्देश अफसरों को दिए। इस दौरान अधीक्षण यंत्री प्रदीप चतुर्वेदी, एसीपी प्रदीप वर्मा, भवन अधिकारी प्रदीप जादौन, पटवारी सतेन्द्र यादव, क्षेत्राधिकारी मनीश कन्नौजिया उपस्थित थे।

 

यहां हुई हॉट टॉक

गोविंदपुरी से सिरोल रोड पर मरघट से लगी सरकारी नाले की जमीन के पास बाउण्ड्रीवॉल बनाने वालों से निगमायुक्त ने अवैध प्लॉटिंग करने के संदेह पर लोगों को दस्तावेज प्रस्तुत करने को कहा, लेकिन निर्माण करने वालों ने निगमायुक्त से कह दिया कि हमने कई बार कागज निगम में भेज दिए हैं। अब हम कोई कागज देने के लिए आने वाले नहीं है। इस पर निगमायुक्त ने निर्माण क ार्य बंद कराने के निर्देश अफसरों को दिए।

 

यहां भी पहुंचे अफसर
-न्यू कलक्ट्रेट व जिला न्यायालय की सीवर निकासी के लिए विद्या बिहार, मॉडल टॉउन व कैलाश नगर में पहुंचे। जहां उन्होंने कॉलोनाइजर दिलीप शर्मा व राहुल शर्मा से जीडीए व आसपास के क्षेत्र की सीवर समस्या हल करने के लिए दो लाइनें जोडकऱ मुख्य मार्ग पर बनने वाली मेन लाइन तक लाने के निर्देश दिए।

-फूटी कॉलोनी पहुंचकर मास्टर प्लान अनुसार जमीनों को छोड़ नाले वाली जमीन पर सीवर लाइन डालकर हुरावली तिराहे तक लाने पर चर्चा की। सिरौल में हुरावली मार्ग पर में डली सीवर लाइन चेंबर की गुणवत्ता चेक करने के प्रयास किए।
-न्यू कलक्ट्रेट के पीछे से हाइवे जाने वाले मार्ग पर स्थित मर्सी होम के पास प्रधानमंत्री आवास योजना नोडल अधिकारी पवन सिंघल को मार्ग के दोनों ओर मिली जमीन से कब्जा हटवाने के निर्देश दिए।

Rahul rai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned