Breaking : झंडा लगाने को लेकर भाजपा-कांग्रेस समर्थक भिड़े,भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

Breaking : झंडा लगाने को लेकर भाजपा-कांग्रेस समर्थक भिड़े,भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

By: monu sahu

Published: 15 Nov 2018, 05:53 PM IST

ग्वालियर। विधानसभा चुनाव में सुरक्षा को लेकर प्रदेश को हाईअलर्ट पर रखा गया है। साथ ही जब देश के प्रधानमंत्री मोदी ग्वालियर जिले में आने वाले है और उनके आने से महज 24 घंटे पहले ही भाजपा व कांग्रेस के समर्थकों को ऐसी भिड़त होती हंै जिससे पुलिस प्रशासन पर सुरक्षा को लेकर सवाल उठ रहे हैं। क्या चुनाव है ऐसे ही आम लोगों की सुरक्षा पुलिस करेगी। दरअसल किलागेट क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान शुक्रवार को भाजपा प्रत्याशी एवं उच्च शिक्षा मंत्री जयभानसिंह पवैया और कांग्रेस प्रत्याशी प्रद्युमनसिंह तोमर के समर्थकों में भिड़त हो गईं।

यह भी पढ़ें : VIDEO : भाजपा का ये दिग्गज विधायक हुआ बागी,शिवराज व नरेंद्र सिंह को लेकर दिया बड़ा बयान

इस घटना में शामिल पीडि़ता पुष्पाबाई ने मंत्री पवैया के समर्थकों पर मारपीट के आरोप लगाए। बाद में मामला किलागेट पुलिस थाने पहुंचा जहां पर कांग्रेसी कार्यकर्ता, मंत्री समर्थकों पर एफआइआर दर्ज कराने की मांग पर अड़े रहे। कुछ ही देर में भाजपा कार्यकर्ता भी पुलिस थाने पहुंच गए। थाने पर करीब एक घंटे तक हंगामा चलता रहा। किलागेट निवासी पुष्पाबाई ने आरोप लगाते हुए बताया कि शुक्रवार की दोपहर करीब 3 बजे वह घर पर थी,तभी मौहल्ले में भाजपा प्रत्याशी जयभानसिंह पवैया का जनसंपर्क चल रहा था।

यह भी पढ़ें : सिंधिया बोले-भाजपा डकैतों की सरकार है,जिसे उखाड़ फेंकने का जनता ने बना लिया मन

इसी दौरान कुछ युवक घर पर आए और भाजपा पार्टी का झंडा लगाने लगे,जब विरोध किया तो उन्होंने मेरे साथ व मेरे दोनों बेटों की मारपीट कर दी। घटना की सूचना मिलते ही कांग्रेसी कार्यकर्ता महिला को लेकर पुलिस थाने पहुंच गए। जहां पर वह मंत्री समर्थकों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराए जाने की मांग पर अड़़े रहे। इसी दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी भी की।

यह भी पढ़ें : SPG ने बदला प्रधानमंत्री का सुरक्षा प्लान,अब ऐसी रहेगी पीएम मोदी की सुरक्षा

इस बात की सूचना मिलने पर भाजपा कार्यकर्ता भी पुलिस थाने पहुंच गए और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराए जाने की मांग करने लगे। खबर लिखे जाने तक पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई हैं।

mp election 2018
monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned