पाइपलाइन में मिला सीवर, घरों में आया गंदा-बदबूदार पानी, लोग हो रहे बीमार

शहर में इस समय पीने के पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। कहीं नलों में पानी कम आ रहा है तो कहीं गंदे और बदबूदार पानी की सप्लाई हो रही है। गंदा और बदबूदार पानी पीने का असर

ग्वालियर. शहर में इस समय पीने के पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। कहीं नलों में पानी कम आ रहा है तो कहीं गंदे और बदबूदार पानी की सप्लाई हो रही है। गंदा और बदबूदार पानी पीने का असर लोगों के स्वास्थ्य पर पडऩे लगा है। इसका कारण है अमृत योजना के तहत एडीबी द्वारा लापरवाही से डाली गई पाइप लाइन। मॉनिटरिंग के अभाव में पाइप लाइन को कहीं-कहीं गलत तरीके से सीवर की लाइन के साथ ही बिछा दिया गया है, जिसका खामियाजा शहर की जनता को भुगतना पड़ रहा है। वहीं अगर गंदे पानी की सप्लाई पर अंकुश नहीं लगाया गया तो शहर के कुछ इलाकों में गंभीर बीमारी पनप सकती है।
शिंदे की छावनी में लोगों ने सुबह अपने घरों के नल खोले तो उसमें से सीवरयुक्त गंदा पानी आया। यहां रहने वाले लोगों ने बताया कि दो-तीन से गंदे पानी की सप्लाई हो रही है। पीने के लिए अन्य क्षेत्रों से पानी ढोकर लाना पड़ रहा है। वहीं बहोड़ापुर के वार्ड 4 स्थित कैलाश नगर, वार्ड 7 के पीएचई कॉलोनी सहित अन्य क्षेत्रों में गंदे पानी की सप्लाई हुई। क्षेत्रीय लोगों ने इसकी जानकारी पीएचई अधिकारियों को दी। वहीं वार्ड 12 के सुभाष नगर के अलावा थाटीपुर, उपनगर मुरार, गोले का मंदिर जैसे क्षेत्रों में भी गंदे पानी आने की शिकायत रही। वहीं वार्ड 9 और 12 में सात दिन से चल रही गंदे पानी की सप्लाई शिकायत के बाद भी जारी रही।


निगम की टीमों ने कराई सफाई
नलों में आ रहे गंदे पानी की सप्लाई का स्रोत ढूंढने के लिए सुबह से ही निगम की अलग-अलग टीमों ने शिंदे की छावनी, छप्पर वाला पुल सहित अन्य इलाकों में सीवर चैंबरों की सफाई कराई। शिंदे की छावनी चौराहे पर सीवर चैंबर में निकले कचरे मे में बोतलों की संख्या ज्यादा था, जिसके चलते चैंबर चोक हो रहे थे।


कम दबाव से आया पानी
रविवार को तिघरा के फिल्टर प्लांट की मैन डिस्चार्ज लाइन में लीकेज हो गया, उस लीकेज को ठीक कराया गया। शाम को पुन: गड़बड़ी हो गई, जिससे गजराराजा स्थित पानी की टंकी नहीं भर सकी, जिससे सोमवार को महाराज बाड़े के आसपास पानी की सप्लाई कम दबाब में हुई।

Show More
रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned