ठंडे के बाजार पर लगातार दूसरे साल कोरोना का साया, हर माह हो रहा करोड़ों का नुकसान

- कोरोना कफ्र्यू के चलते पूरी तरह से बंद है बिक्री, कोरोना संक्रमण के चलते गर्म चीजें खाने की सलाह दे रहे चिकित्सक इसलिए कफ्र्यू के बाद भी बिगड़ा रहेगा बाजार

By: Narendra Kuiya

Published: 11 May 2021, 09:51 PM IST

ग्वालियर. कोरोना संक्रमण काल का बुरा असर गर्मी के मौसम में चलने वाले ठंडे के कारोबार पर पड़ा है। पिछले वर्ष भी कोरोना के चलते आइस्क्रीम, कोल्ड ड्रिंक, जूस सहित दूसरे ठंडे की बिक्री 80 फीसदी तक गिर गयी थी। वहीं इस साल भी कोरोना कफ्र्यू के कारण इनकी बिक्री पूरी तरह से ठप है। ठंडे आयटम की सबसे अधिक खपत होटल, रेस्त्रां, शादी और दूसरे आयोजनों में होती है लेकिन इस वर्ष भी ये सभी बंद हैं। ठंडे के कारोबार से जुड़े कारोबारियों के मुताबिक गर्मी के मौसम में प्रतिमाह करीब 6 करोड़ का नुकसान हो रहा है। इस साल फरवरी और मार्च में जरूर थोड़ा-बहुत कारोबार हुआ लेकिन अब हालत बहुत ही खराब है। उनका मानना है कि इस साल भी कारोबार न के बराबर ही रहेगा।

एक माह में बिकती है दो करोड़ की आइस्क्रीम
वैसे तो शहर में आइस्क्रीम की खपत साल भर होती है लेकिन फरवरी माह से इसका सीजन प्रारंभ हो जाता है। एक प्रमुख आइस्क्रीम कंपनी के सीएंडएफ और डिस्ट्रीब्यूटर संदीप जैन ने बताया कि गर्मी के दिनों में शहर में एक माह में दो करोड़ रुपए की आइस्क्रीम बिक जाती है। पिछले साल की तरह इस बार का सीजन भी ऐसे ही जा रहा है। इस साल फरवरी और मार्च में थोड़ी-बहुत बिक्री हुई थी।

कोल्ड ड्रिंक और जूस का भी है बड़ा बाजार
कोल्ड ड्रिंक और जूस को पसंद करने वालों की भी कमी नहीं है, पर कोरोना काल में इनकी बिक्री भी बंद है। हर साल कोल्ड ड्रिंक की एक करोड़ से अधिक की बिक्री हो जाती थी, वहीं पैक्ड जूस सहित फलों के जूस, शेक का भी 80 लाख से अधिक का कारोबार होता था। एक प्रमुख कोल्ड ड्रिंक कंपनी से जुड़े रवि जैन ने बताया कि अभी तो बिक्री पर बड़ा असर है, लेकिन यदि आगे बाजार खुलता है तो उससे कुछ उम्मीद है।

कफ्र्यू खुलने के बाद भी कम लोग ही खरीदेंगे
कोरोना संक्रमण काल के चलते फिलहाल ठंडे के बाजार में उठाव की उम्मीद दिखाई नहीं देती है। इन दिनों चिकित्सक भी वायरस के प्रभाव से बचने के लिए ठंडा खाने से मना कर रहे हैं और इसका असर सीधे तौर पर ठंडे के कारोबार पर भी पड़ेगा।

कोरोना ने फिर से काम बिगाड़ दिया
आइस्क्रीम, कोल्ड ड्रिंक, पैक्ड जूस आदि ठंडी चीजों की गर्मी के सीजन में जमकर बिक्री होती थी। पिछले साल और इस साल दुकान बंद रहने के कारण कुछ भी नहीं बिक पाया है। सभी चीजों का स्टॉक भी किया था लेकिन कोरोना ने फिर से काम बिगाड़ दिया।
- मनोज अग्रवाल, संचालक, जनरल स्टोर

Narendra Kuiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned