script ज्वार व बाजरा की जांच के लिए दिल्ली से आया दल, दीनारपुर के बाद मुरैना में लिए सैंपल | Team came from Delhi to test jowar and millet, after Dinarpur samples | Patrika News

ज्वार व बाजरा की जांच के लिए दिल्ली से आया दल, दीनारपुर के बाद मुरैना में लिए सैंपल

locationग्वालियरPublished: Dec 19, 2023 11:20:16 am

Submitted by:

Balbir Rawat

छह फीसदी तक खराब दाना खरीदने की मांगी है अनुमति

एफसीआई ने भेजा है दल

ज्वार व बाजरा की जांच के लिए दिल्ली से आया दल, दीनारपुर के बाद मुरैना में लिए सैंपल
ज्वार व बाजरा की जांच के लिए दिल्ली से आया दल, दीनारपुर के बाद मुरैना में लिए सैंपल
समर्थन मूल्य पर ज्वार व बाजरा की विक्रय के लिए चार दिन शेष हैं, लेकिन जिले में ज्वार व बाजरा की खरीद नहीं हो सकी है। फेयर एवरेज क्वालिटी में ज्वार व बाजरा फेल हो रहा है। अब जांच के तीन सदस्यीय दल आया है। सोमवार को ग्वालियर मंडी में जांच करने के बाद मुरैना में ज्वार व बाजार के सैंपल लिए है। इस दल की रिपोर्ट आने के बाद ज्वार व बाजार की खरीद शुरू हो सेकगी। जिले में ज्वार व बाजार में छह फीसदी दाना खराब है, जिससे फेयर एवरेज क्वालिटी में फेल हो रहा है। जिले में 22 नवंबर से ज्वार व बाजरा की खरीद शुरू हो गई थी। किसानों ने स्लॉट बुक करने के बाद उपार्जन केंद्र पर लेकर पहुंचे, लेकिन फेयर एवरेज क्वालिटी में ज्वार व बाजरा फेल हो गए। इस वजह से किसानों को अपना अनाज वापस लेकर आना पड़ा। शासन स्तर तक इसकी शिकायत की। बीते दिनों छह सदस्यीय कमेटी ने जांच की और सैंपल लिए। साथ भोपाल प्रस्ताव भेजा गया कि छह फीसदी तक कटा व खराब दाना खरीदने की अनुमति दी जाए, लेकिन अनुमति नहीं मिल सकी। एफसीआई ने तीन सदस्यीय टीम दिल्ली से भेजी है। इस टीम ने ग्वालियर व मुरैना में ज्वार-बाजरा की जांच की है। सैंपल भी लिए। इस कमेटी के निर्णय पर ज्वार-बाजार की खरीद निर्भर करेगी। समर्थन मूल्य पर खरीद नहीं होन से किसान को नुकसान उठाना पड़ा है। मंडी में ये सस्ता चल रहा है। साथ ही लंबे समय तक ज्वार-बाजरा को रोकना पड़ा। धान की भी नहीं हो रही खरीद ज्वार व बाजरा के साथ धान की भी खरीद नहीं हो रही है। उपार्जन केंद्र सूने पड़े हैं। किसानों ने अपना स्लॉट बुक कराया, लेकिन कांट पर धान नहीं खरीदी जा सकी। लौटाकार वापस न लाना पड़े, इसके चलते किसान नहीं आ रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो