एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या से दहशत, घरवालों को दौड़ा-दौड़ा कर उतारा मौत के घाट, घर में बिखरे मिले शव

एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या से दहशत, घरवालों को दौड़ा-दौड़ा कर उतारा मौत के घाट, घर में बिखरे मिले शव

Akansha Singh | Updated: 28 Jun 2019, 10:36:21 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले में लूट के बाद एक ही परिवार के दो मासूम बच्चों सहित 5 लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई।

हमीरपुर. जिले में लूट के बाद एक ही परिवार के दो मासूम बच्चों सहित 5 लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई। घटना को अंजाम दे कर हत्यारे फरार हो गये। हमीरपुर के रानी लक्ष्मी बाई मोहल्ले में लूट के लिये घर में घुसे बदमाशों ने पहचाने जाने की वजह से दो मासूम बच्चों, एक वृद्ध और दो महिलाओं की हथौड़े से कुचल कर हत्या कर दी और फरार हो गये। हत्यारों ने इस घर में रहने वालों को घर के अन्दर ही दौड़ा दौड़ा कर मारा है। जिसकी वजह से पूरे घर में जगह जगह खून फैला पड़ा है घर के कोने कोने मे लाशें बिखरी पड़ी हैं। जिसको देखने के बाद लोगों का कलेजा हलक में आ गया है। हत्यारों ने दो मासूम बच्चों दो महिलाव और एक वृद्ध के सर पर हथौड़े से हमला करते हुए बेरहमी से मारा है।

जिला मुख्यालय के रानी लक्ष्मी बाई तिराहे के पास नेशनल हाईवे 34 के किनारे रहने वाले कारोबारी कलेक्ट्रेट के रिटायर्ड अरदली के घर में हुई घटना की सूचना पुलिस को दी गई। घटना स्थल पर चित्रकूट धाम मंडल के बांदा के डीआइजी भी पहुंचे। डीआईजी का कहना है की प्रथम दृष्टया यह घटना पारिवारिक रंजिश के वजह से हुई है।

हमीरपुर कलेक्ट्रेट के अरदली रहे नूरबक्स ने हाइवे के किनारे अपना मकान बनवाया था और यहीं अपने दो बेटों के साथ रहता था। बड़े बेटे का नाम नफ़ीस और छोटे बेटे रहीस है। इस सामूहिक नरसंहार में नूरबक्स के छोटे बेटे राहीस उसकी पत्नी रोशनी बेटा (4 साल) और उसकी मां (85 साल) और 11 साल की भांजी मारी गई हैं। जबकि बड़ा बेटा नफीस घर पर नहीं मिला और इस घटना के बाद अभी तक वह घर भी नहीं पहुंचा है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned