भादरा में माकपा, रावतसर में भाजपा और टिब्बी, नोहर, संगरिया, पीलीबंगा एवं हनुमानगढ़ में बन सकते हैं कांग्रेस के प्रधान

- गांव की सरकार को लेकर निर्णय जल्द, तस्वीर हुई साफ
- अंतिम दौर की चल रही मतगणना
- जिला परिषद की दोपहर बाद होगी मतगणना

By: Manoj

Published: 08 Dec 2020, 12:48 PM IST

हनुमानगढ़. जिले में 29 जिला परिषद सदस्य व 143 पंचायत समिति डायरेक्टर के मतों की गणना को लेकर जिला मुख्यालय पर मतगणना सुबह नौ बजे से चल रही है। चुनाव परिणाम अधिकृत रूप से घोषित नहीं हुए हैं लेकिन तस्वीर साफ हो गई है। जिले की सात पंचायत समितियों में से एक-एक में माकपा और भाजपा बढ़त बनाए हुए है और पांच में कांग्रेस आगे है। हनुमानगढ़, संगरिया, पीलीबंगा, टिब्बी और नोहर में कांग्रेस की सत्ता आने की उम्मीद है और भादरा में माकपा तथा रावतसर में भाजपा के प्रधान बनने की संभावना है। निर्वाचन प्रक्रिया चल रही है। दोपहर दो बजे तक तस्वीर साफ होगी। इसके बाद जिला परिषद के लिए मतों की गिनती आरंभ होगी।

हनुमानगढ़ जिले की हनुमानगढ़ पंचायत समिति में अब तक के रुझान में कांग्रेस को सफलता मिलती दिख रही है। अब तक की 8 राउंड मतगणना में हनुमानगढ़ पंचायत समिति के कुल 23 ब्लॉक में से कांग्रेस 16 ब्लॉक में, भाजपा 4 व निर्दलीय 3 पर आगे है।

हनुमानगढ़ जिले की टिब्बी पंचायत समिति में काग्रेस को स्पष्ट बहुमत की संभावना. सातवें दौर के बाद कांग्रेस 11, भाजपा तीन, बसपा एक व निर्दलीय दो सीटो पर आगे। हनुमानगढ़ जिले की रावतसर पंचायत समिति चुनाव में 15 पंचायत समिति सदस्यों में से भाजपा के 10 प्रत्याशी आगे है, वही कांग्रेस के 3 व निर्दलीय 2 आगे चल रहे है। हनुमानगढ़ जिले की नोहर पंचायत समिति में अब तक के रुझान में कांग्रेस को सफलता मिलती दिख रही है। अब तक की राउंड मतगणना में नोहर पंचायत समिति के कुल 27 ब्लॉक में से कांग्रेस 12 ब्लॉक में, भाजपा 10, माकपा 4 तीन व निर्दलीय एक पर आगे है।

जिला प्रमुख के लिए जोड़ तोड़ शुरू
हनुमानगढ़ जिले में जिला प्रमुख बनाने के लिए कांग्रेस व भाजपा ने जोड़-तोड़ का गणित बनाना शुरू कर दिया है। इसलिए सभी प्रत्याशियों की बाड़ाबंदी भी दोनों पार्टियों ने कर दी है। मंगलवार को मतगणना के बाद जो प्रत्याशी जीतेंगे, उनकी दोनों पार्टियां विशेष निगरानी करेगी। दस दिसम्बर को जिला प्रमुख का चुनाव होना है।

७१.७० प्रतिशत रहा औसत मतदान
हनुमानगढ़ जिले में वर्ष २०२० में चारों चरणों में संपन्न पंचायत चुनावों में कुल ७१.७० प्रतिशत मतदान हुआ। इसमें टिब्बी में ६९.२७, नोहर में ७३.२४, पीलीबंगा में ६५.५०, भादरा में ७४.३२, रावतसर में ६८.६७, संगरिया में ७५.५४ व हनुमानगढ़ में ७४.३४ प्रतिशत मतदान हुआ।

वोटर टर्नआउट में संगरिया प्रथम
संगरिया. पंचायत समिति व जिला परिषद् के सदस्य चुनाव को लेकर वोटर टर्नआउट में जिले में संगरिया प्रथम रहा है। चुनावी आंकड़ों पर नजर डालें तो हनुमानगढ़ जिले में हनुमानगढ़ पंचायत समिति में वोटिंग का प्रतिशत ७४.६२ फीसदी, नोहर ७३.२४ फीसदी, भादरा ७४.३२ फीसदी, पीलीबंगा ६५.५१ फीसदी तथा टिब्बी ६९.२६ प्रतिशत रहा है जबकि सबसे टॉप में संगरिया का वोटिंग टर्न आउट ७५.५२ प्रतिशत रहा। [पसं.]


प्रधान का चुनाव 10 दिसम्बर को
संगरिया. पंचायत समिति प्रधान का चुनाव 10 दिसम्बर को पंचायत समिति मुख्यालय पर होगा। रिटर्निंग अधिकारी रमेश देव ने बताया कि प्रधान पद के निर्वाचन के लिए प्रत्याशी प्रात: 10 से 11 बजे तक अपने नाम निर्देशन पत्र दाखिल कर सकते हैं। नामांकन पत्रों की संवीक्षा 11.30 बजे एवं नाम वापसी का समय अपराह्न एक बजे तक होगा। नाम वापसी के तुरंत बाद चुनाव चिह्नों का आवंटन किया जाएगा। मतदान का समय अपराह्न 3 बजे से 5 बजे तक होगा। मतदान के तुरंत बाद मतगणना कर परिणाम की घोषणा की जाएगी। उन्होंने बताया कि उप प्रधान का चुनाव इसी प्रक्रिया के अनुसार अगले दिन 11 दिसंबर को होगा। [पसं.]


चुनाव परिणाम आने से पूर्व बढ़ी प्रत्याशियों की दिल की धड़कनें
पीलीबंगा. पंचायतराज चुनाव के तहत पंचायत समिति व जिला परिषद सदस्य के भाग्य का फैसला मंगलवार को होगा। चुनाव परिणाम आने से पूर्व संबंधित प्रत्याशियों की दिल की धड़कनें बढी हुई है। मंगलवार को मतगणना के बाद फैसला होगा कि जीत का सेहरा किस प्रत्याशी के सिर पर सजेगा। पंचायत समिति व जिला परिषद सदस्य के चुनाव में खड़े हुए संबंधित प्रत्याशी अपनी जीत के प्रति आशान्वित हैं। पंचायत समिति सदस्य के चुनाव को लेकर पीलीबंगा पंचायत समिति के 19 ब्लॉक तथा जिला परिषद के 1 से 4 जोन तक हुए चुनाव में अधिकांश ब्लॉक व जोन में भाजपा व कांग्रेस के बीच मुख्य मुकाबला है लेकिन कुछ हल्कों में माकपा, रालोप व निर्दलीय प्रत्याशी भी भाजपा व कांग्रेस के प्रत्याशियों पर भारी पड़ सकते हैं। मंगलवार को आने वाले चुनाव परिणामों को लेकर गांवों में ग्रामीण प्रत्याशियों की जीत व हार को लेकर चर्चा कर रहे
हैं। पंचायत समिति में प्रधान पद अनुसूचित जाति महिला के लिए आरक्षित है। मंगलवार को निर्वाचित होने वाले प्रत्याशी 10 दिसम्बर को पंचायत समिति के लिए नए प्रधान का चुनाव करेंगे।(पसं)

मतगणना स्थल पर यह होगी व्यवस्था
-जिला परिषद हनुमानगढ़ के २९ जोन सदस्यों के लिए आठ को होगी मतगणना।
-मतगणना स्थल पर ५७२ पुलिस जवानों का जाब्ता रहेगा तैनात।
-सुबह दस बजे तक आएगा पहला रुझान।
-मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए बनाया तीन द्वार।
-जिले में पंचायत चुनाव में १४३८ पोलिंग बूथों पर शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ है मतदान।
-आठ को जिला परिषद के २९ जोन सदस्यों के साथ ही जिले की सातों पंचायत समितियों में १४३ डायरेक्टरों की जीत-हार का होगा निर्धारण।


जिसकी रही प्रदेश में सरकार, उसी पार्टी का रहा टिब्बी में प्रधान
- टिब्बी पंचायत समिति में एक-एक बार कांग्रेस व भाजपा के बने प्रधान
टिब्बी. दस साल पुरानी टिब्बी पंचायत समिति के प्रधान व सदस्यों के लिए अब तक दो बार चुनाव हो चुके है। इसमें एक बार कांग्रेस तथा दूसरी बार भाजपा का बोर्ड व प्रधान बना। वर्ष २०१० में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार के दौरान टिब्बी पंचायत समिति का प्रधान कांग्रेस के भूप सिंह मेघवाल बने। जब कि २०१५ में प्रदेश में भाजपा की सरकार के दौरान भाजपा की अमनदीप कौर प्रधान बनी। दोनों ही बार कांग्रेस व भाजपा में कड़ी टक्कर रही। इस बार भी कांग्रेस व भाजपा के साथ बसपा, माकपा तथा निर्दलियों के बीच कांटे की टक्कर है। टिब्बी पंचायत समिति में कुल १७ सदस्य चुने जाने है। स्पष्ट बहुमत के लिए किसी एक पार्टी के नौ सदस्य जीतने जरूरी है। टिब्बी पंचायत समिति प्रधान पद अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है। जिसके कारण आरक्षित सीटों पर मुकाबला ज्यादा कड़ा रहा है। पंचायत समिति सदस्यों के मतों की गणना का आठ दिसम्बर को प्रस्तावित है। इससे पूर्व चुनाव मैदान में उतरे प्रत्याशियों के अलावा आम मतदाता भी हार जीत के कयास लगाने में जुटे हुए है।


द्रोपती और प्रवीणा के भाग्य का आज होगा फैसला
मिर्जावाली मेर. जिला परिषद व पंचायत समिति चुनाव के परिणाम सप्ताह भर के इन्तजार के बाद मंगलवार को मतगणना के साथ खत्म हो जाएगा। जिले भर से जारी होने वाले परिणाम में जोन संख्या 20 को लेकर आमजन को परिणाम को लेकर उत्साहित हो रहा है। यहां की सीट पर दोनों राजनीति पार्टी के दिग्गज के चुनाव लडऩे से हॉट सीट माना गया है। जोन संख्या 20 से पीलीबंगा विधानसभा की पूर्व विधायक द्रोपती मेघवाल को भाजपा ने मैदान उतारा था। वहीं श्रीगंगानगर के पूर्व सांसद बीरबल राम मेघवाल की पौत्रवधू व मिर्जावाली मेर के निवर्तमान सरपंच जगदीश मेघवाल की पत्नी टिब्बी ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष प्रवीणा मेघवाल को कांग्रेस की टिकट से मैदान में उतारा था।

Manoj Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned