हनुमानगढ़ के पांचों विधायक ने खाद्य सुरक्षा का पोर्टल खुलवाने को लेकर प्रभारी मंत्री के आगे लगाई फरियाद

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जिला प्रभारी मंत्री बीडी कल्ला ने जिला परिषद सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली। इसमें जिले के पांचों विधायकों ने पार्टीबाजी से ऊपर उठकर जनता हितों को सर्वोपरि मानते हुए प्रभारी मंत्री के समक्ष खाद्य सुरक्षा का पोर्टल तत्काल खुलवाने को लेकर फरियाद लगाई।

 

By: Purushottam Jha

Published: 08 Oct 2020, 09:07 AM IST

हनुमानगढ़ के पांचों विधायक ने खाद्य सुरक्षा का पोर्टल खुलवाने को लेकर प्रभारी मंत्री के आगे लगाई फरियाद
-जिला स्तरीय बैठक में विधायकों ने कहा गरीब जनता हो रही परेशान जबकि अपात्र लोग उठा रहे गेहूं
-पात्रों का नाम सूची से हटाने पर जनप्रतिनिधियों ने जताई नाराजगी
हनुमानगढ़. जिला प्रभारी मंत्री बीडी कल्ला ने जिला परिषद सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली। इसमें जिले के पांचों विधायकों ने पार्टीबाजी से ऊपर उठकर जनता हितों को सर्वोपरि मानते हुए प्रभारी मंत्री के समक्ष खाद्य सुरक्षा का पोर्टल तत्काल खुलवाने को लेकर फरियाद लगाई। नोहर विधायक अमित चाचाण, भादरा विधायक बलवान पूनियां, हनुमानगढ़ विधायक चौधरी विनोद कुमार, संगरिया विधायक गुरदीप सिंह शाहपीनी व पीलीबंगा विधायक धर्मेंद्र मोची ने एक स्वर में कहा कि खाद्य सुरक्षा का पोर्टल बंद होने से पात्र लोगों के नाम सूची में नहीं जुड़ पा रहे हैं।
इससे इन लोगों को चिकित्सा सुविधा का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है। भादरा विधायक पूनियां ने कहा कि यह बहुत संवेदनशील मामला है। सरकार को जल्द पोर्टल खोलने को लेकर व्यवस्था करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब नाम काटने का ऑप्शन सरकार ने दे रखा है तो पात्र लोगों के नाम जोडऩे का ऑप्शन देने में क्या दिक्कत हो सकती है। विधायक धर्मेंद्र मोची व पार्षद अनिल खीचड़ ने सूची से पात्र लोगों के नाम मनमाने तरीके से हटाने का आरोप भी लगाया। प्रभारी मंत्री कल्ला ने कहा कि धक्के से बहुत से नाम सूची से जुड़ गए थे। इनको काटने का काम जारी है। एक महीने में सूची साफ हो जाएगी। इसके बाद पोर्टल को खोलकर पात्रों के नाम जोडऩे का काम शुरू करेंगे। बीस सूत्री कार्यक्रम की बैठक में कई योजनाओं में हनुमानगढ़ की स्थिति अच्छी नहीं होने पर प्रभारी मंत्री ने जिला परिषद सीईओ को इसमें सुधार करने का निर्देश दिया। संस्थागत प्रसव के लक्ष्यों को पूरा करने को लेकर सीएमएचओ को नियोजित तरीके से कार्य करने की बात कही। संगरिया विधायक गुरदीप शाहपीनी ने पीएम आवास योजना में ग्राम सेवक की ओर से गड़बड़ी करने का मामला उठाया तो प्रभारी मंत्री ने इस मामले की जांच करवाने को लेकर निर्देशित किया। भादरा विधायक ने जल जीवन मिशन के तहत उन गांवों को प्राथमिकता से शामिल करने का आग्रह किया, जहां के लोगों को मीठा पानी आज तक नसीब नहीं हुआ है।
सभापति गणेशराज बंसल ने शहरी क्षेत्र में स्वीकृत कालोनियों में पेयजल सुविधा मुहैया करवाने को लेकर नीति स्पष्ट करने की बात कही। जिससे कॉलोनी में रहने वाले लोगों को पेयजल सुविधा मिल सके। इससे पहले मंत्री ने कोरोना जागरूकता को लेकर मास्क की अनिवार्यता को हर जगह लागू करने को लेकर निर्देश दिया। मंत्री ने कहा कि जब हम मोबाइल नहीं भूलते तो फिर मास्क लगाना भी नहीं भूलना चाहिए। इसे हमें आदत के रूप में बनाना होगा। इस मौके पर उन्होंने स्टीकर का विमोचन भी किया। बैठक में कलक्टर जाकिर हुसैन, एसपी राशि डूडी, गंगमूल डेयरी चैयरमेन जसवीर सिंह सहारण, सीएमएचओ डॉ. अरुण चमडिय़ा, एसडीएम कपिल यादव, एएसपी जस्साराम बोस, जिला परिषद सीईओ परशुराम धानका, पीआरओ सुरेश बिश्नोई, जिला अस्पताल के पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा, कृषि विपणन विभाग के उप निदेशक सुभाष सहारण, मंडी समिति सचिव सीएल वर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।

हर जगह कट
बैठक में विधायकों ने जब विकास कार्य को लेकर राज्य सरकार से बजट जारी करने की बात कही तो प्रभारी मंत्री ने केंद्र सरकार की तरफ इशारा करते हुए कहा कि वहां से कई योजनाओं में आर्थिक सहयोग आधा कर दिया गया है। उसी अनुपात में राज्य सरकार भी प्रस्ताव तैयार करवा रही है। उन्होंने भाजपा विधायकों से कहा कि आप लोग कट को दुरुस्त करवाओ। प्रभारी मंत्री ने दो टूक में कहा, जितना बजट होगा, उसी आधार पर काम करेंगे।

ज्ञान ज्यादा, पालन नहीं
बैठक में प्रभारी मंत्री बीडी कल्ला ने कोरोना बचाव को लेकर काफी विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान संगरिया विधायक गुरदीप शाहपीनी ने कहा कि कोरोना को लेकर हम ज्ञान ज्यादा दे रहे हैं। लेकिन इसके नियमों की पालना खुद बहुत कम रहे हैं। हाल में किए गए धरना-प्रदर्शनों का जिक्र कर कहा कि आए दिन इस तरह की तस्वीरंे सबके सामने आ रही है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि हम दो गज की दूरी के नियम की पालना जरूर करेंगे। हम कृषि बिल के खिलाफ आगे धरना देंगे, इसमें आपको इस नियम की पालना जरूर मिलेगी।

आंकड़े छुपाने का नहीं आदेश
स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना रोगियों के आंकड़े छुपाए जाने को लेकर मीडिया ने जब मंत्री से सवाल किया तो मंत्री कल्ला ने कहा कि ऐसा कोई आदेश सरकार की तरफ से जारी नहीं किया गया है। फिर भी वह इस बारे में सीएमएचओ से बात करेंगे। कल्ला ने आमजन से भी आह्वान किया कि इस रोग से बचाव के लिए जब तक कोई वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक सुरक्षा की दृष्टि से मास्क का उपयोग जरूर करें। घर से ही अपने कार्य निपटाएं। अगर कोई ग्राहक बिना मास्क दुकान पर आता है तो व्यापारी उसे मास्क पहनाकर ही भेजें। मास्क वितरण के बाद जिला प्रभारी मंत्री ने सूचना एवं जनसपंर्क विभाग और नगर परिषद की ओर से कोरोना रोकथाम प्रचार प्रसार के लिए तैयार किए गए रथों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned