265 करोड़ का बीमा क्लेम जारी

Purushotam Jha | Publish: Aug, 16 2019 11:58:23 AM (IST) Hanumangarh, Hanumangarh, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. खराब मौसम के चलते खरीफ २०१८ में जिले में काफी मात्रा मेें फसलों को नुकसान हुआ था। इसके बाद प्रशासन की ओर से सर्वे करवाकर किसानों को बीमा क्लेम दिलाने का प्रयास शुरू किया गया। इस तरह जिले में खराब फसलों के अनुपात में ४७३ करोड़ का बीमा क्लेम स्वीकृत किया गया। पीएम फसल बीमा योजना में क्लेम मंजूर होने के बाद बीमा कंपनी के अधिकारी इसे जारी करने में देरी कर रहे थे। गत दिनों कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने बीमा कंपनी के अधिकारियों को इस संबंध में अवगत करवाया था

 

265 करोड़ का बीमा क्लेम जारी
-खरीफ २०१८ में हुआ था ४७३ करोड़ का खराबा
-बीमा कंपनी इफको टोकियो ने अभी तक ३८१ करोड़ जारी किए
हनुमानगढ़. खराब मौसम के चलते खरीफ २०१८ में जिले में काफी मात्रा मेें फसलों को नुकसान हुआ था। इसके बाद प्रशासन की ओर से सर्वे करवाकर किसानों को बीमा क्लेम दिलाने का प्रयास शुरू किया गया। इस तरह जिले में खराब फसलों के अनुपात में ४७३ करोड़ का बीमा क्लेम स्वीकृत किया गया। पीएम फसल बीमा योजना में क्लेम मंजूर होने के बाद बीमा कंपनी के अधिकारी इसे जारी करने में देरी कर रहे थे। गत दिनों कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने बीमा कंपनी के अधिकारियों को इस संबंध में अवगत करवाया था। इसके बाद बुधवार को बीमा कंपनी इफको टोकियो की ओर से २६५ करोड़ की राशि जारी कर दी गई। कृषि विभाग में सहायक निदेशक सांख्यिकी सुभाष डूडी ने बताया कि बीमा कंपनी ने बुधवार केा २६५ करोड़ जारी करने की बात कही है। कृषि उप निदेशक विस्तार हनुमानगढ़ दानाराम गोदारा ने बताया कि कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने बीमा क्लेम जारी करवाने को लेकर गत दिनों बीमा कंपनी को निर्देशित किया था। इससे अब बीमा कंपनी ने तत्परता दिखाते हुए राशि जारी कर दी है। इससे पहले बीमा कंपनी ने खरीफ २०१८ में खराब हुई फसलों के अनुपात में बीमा क्लेम की पहली किस्त गत दिनों ११६ करोड़ पूर्व में ही जारी कर दी थी। अब २६५ करोड़ और जारी करने के बाद ९२ करोड़ का क्लेम और बच जाएगा। भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई ने बताया कि पीएम फसल बीमा योजना में बीमा की दूसरी किस्त जारी कर दी गई है। किसानों के खाते में राशि आने लगी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned