अब तकनीक के सहारे चौकसी, लॉकडाउन के चौथे चरण में बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की हो सकेगी बेहतर निगरानी

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो गया। इस दौरान बाहरी राज्यों से आने वाले लोग जिले व प्रदेश के लिए मुसीबत नहीं बन जाएं, इसे लेकर जिला प्रशासन स्तर पर सीमा चौकियों पर चौकसी बढ़ा दी गई है। प्रशासनिक अधिकारी अब इसके लिए तकनीक का सहारा भी ढूंढ़ रहे हैं।

 

By: Purushottam Jha

Published: 23 May 2020, 04:49 PM IST

अब तकनीक के सहारे चौकसी, लॉकडाउन के चौथे चरण में बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की हो सकेगी बेहतर निगरानी
-बाहरी प्रदेशों से जिले में आने के लिए १०९५५ लोगों ने करवाया पंजीकरण
हनुमानगढ़. लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो गया। इस दौरान बाहरी राज्यों से आने वाले लोग जिले व प्रदेश के लिए मुसीबत नहीं बन जाएं, इसे लेकर जिला प्रशासन स्तर पर सीमा चौकियों पर चौकसी बढ़ा दी गई है। प्रशासनिक अधिकारी अब इसके लिए तकनीक का सहारा भी ढूंढ़ रहे हैं। इसमें सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग की टीम ऐसा सिस्टम बनाने जा रही है, जिसमें जिले की सीमा में प्रवेश करते ही बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों का डाटा तैयार कर लिया जाएगा। इसकी ऑनलाइन सूचना तैयार होने के बाद संबंधित ग्राम पंचायत स्तर तक तत्काल भेजी जा सकेगी।
इससे बाहर से आने वाले लोगों का पूरा डाटा प्रशासन के पास अपडेट हो जाएगा। इससे वह जिले में किस गांव या वार्ड में रहेगा, इसकी जानकारी भी प्रशासन के पास आ जाएगी। इस तकनीकी सहारे के जरिए संबंधित व्यक्तियों की बेहतर निगरानी हो सकेगी। हालांकि अभी तकनीकी स्तर पर इस तरह के प्रयास शुरुआती दौर में हैं। वर्तमान में इसका ट्रॉयल चल रहा है।
अगर यह ट्रॉयल सफल रहा तो निश्चित तौर पर जिला प्रशासन के लिए यह तकनीकी सहारा काफी मददगार साबित होगा। अभी तक हनुमानगढ़ जिले की बात करें तो बाहरी राज्यों से आने के लिए १०९५५ लोगों ने ऑनलाइन पंजीकरण करवाया है। इनमें ४८९३ प्रवासी लोग ऐसे हैं जिनके पास खुद के वाहन हैं। जिला स्तर पर तकनीकी प्रयासों की बात करें तो इससे पहले पंचायत चुनावों के दौरान भी विशेष पोर्टल बनाकर हनुमानगढ़ जिले की टीम राज्य स्तर पर पहचान बना चुकी है।

यह है तैयारी
सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग हनुमानगढ़ की ओर से तैयार किए जा रहे सॉफ्टवेयर में बाहरी राज्यों से आने वाले सभी लोगों का डाटा सीमा चौकियों पर ही तैयार करने की तैयारी है। इन सीमा चौकियों से दूसरे जिलों की तरफ जाने वाले लोगों का रिकॉर्ड भी रखा जाएगा। ताकि प्रतिदिन शाम को इसकी रिपोर्ट संबंधित जिलों के कलक्टर्स को भेजा जा सके। इससे संबंधित जिले कलक्टर्स को भी इस बात का पता चल जाएगा कि उनके जिले में कितने लोग प्रवेश करने जा रहे हैं।

......फैक्ट फाइल....
-जिले में अभी तक कुल १४ मरीज कोरोना संक्रमित मिले हैं।
-जिले में बाहरी राज्यों से आने के लिए अभी तक १०९५५ लोगों ने ऑनलाइन पंजीकरण करवाया है।
-अभी तक जिले में ६९११९६८ लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है।
-जिले में ७७ क्वारेंटीन सेंटर बनाए गए हैं।
-हनुमानगढ़ जिले से पंजाब व हरियाणा की सीमा लगती है।

........वर्जन....
ट्रॉयल चल रहा
बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की निगरानी के लिए ऑनलाइन सिस्टम बनाया है। इसमें सीमा चौकियों पर प्रवेश करते ही लोगों से जुड़ी सभी तरह की जानकारी अपलोड हो जाएगी। इसकी सूचना संबंधित ग्राम पंचायत स्तर पर पहुंचने से बाहर से आने लोगों को भी दिक्कत नहीं होगी। प्रशासन बेहतर तरीके से निगरानी कर सकेगा।
-योगेंद्र कुमार, एसीपी, सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग हनुमानगढ़

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned