झुलसे रोगियों का हो इलाज, एक माह में शुरू होनी चाहिए बर्न यूनिट

झुलसे रोगियों का हो इलाज, एक माह में शुरू होनी चाहिए बर्न यूनिट
- आरएमआरएस बैठक में जिला कलक्टर ने दिए निर्देश
हनुमानगढ़. जिला अस्पताल में 50 प्रतिशत से अधिक झुलसे रोगियों का इलाज भी हो सकेगा। अस्पताल में बंद पड़ी बर्न यूनिट को फिर से शुरू करने के लिए बुधवार को जिला कलक्टर ने आरएमआरएस बैठक में निर्देश दिए।


झुलसे रोगियों का हो इलाज, एक माह में शुरू होनी चाहिए बर्न यूनिट
- आरएमआरएस बैठक में जिला कलक्टर ने दिए निर्देश
हनुमानगढ़. जिला अस्पताल में 50 प्रतिशत से अधिक झुलसे रोगियों का इलाज भी हो सकेगा। अस्पताल में बंद पड़ी बर्न यूनिट को फिर से शुरू करने के लिए बुधवार को जिला कलक्टर ने आरएमआरएस बैठक में निर्देश दिए। बैठक जिला कलक्टर के चैंबर में हुई। इसमें जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा से पूछा कि अस्पताल में बर्न यूनिट कब से बंद पड़ी है। इस पर पीएमओ ने जवाब दिया कि स्टाफ की कमी के कारण उनके आने से दो माह पूर्व प्रबंधन ने बंद कर दी थी। वर्तमान में अस्पताल में वार्ड सी व डी का मरम्मत कार्य के चलते बर्न यूनिट में वार्ड सी का संचालन किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार बर्न यूनिट शुरू करने को लेकर हाइकोर्ट में जनहित याचिका पर सुनवाई चल रही है। इस संबंध में अग्रिम सुनवाई दस फरवरी को है। आरएमआरएस की बैठक में जिला अस्पताल के विभिन्न मुद्दों पर भी चर्चा हुई। इसमें 12 लाख की लागत से सीआरएम मशीन और बेट्री ऑपरेटिड ड्रिल मशीन खरीदने का प्रस्ताव पारित किया गया। इस मशीन की मदद से हड्डी एवं जोड़ रोग विशेषज्ञ बेहतर तकनीक से ऑपरेशन कर सकेंगे। इसके अलावा करीब 5 लाख की लागत से ऑपरेशन थियेटर में मिनी वेंटीलेटर की भी खरीद की जाएगी। बैठक में टीओ सुनील ढाका, पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा, एसई पीडब्ल्यूडी गुरनाम सिंह, सहायक अभियंता शशांक वर्मा, एसई बिजली मांगीलाल बिश्नोई, मेडिकल ज्यूरिस्ट डॉ. शंकर शर्मा, नगर परिषद अधिशाषी अभियंता सुभाष बंसल आदि मौजूद रहे।

नई एमसीएच यूनिट भी हो शुरू
जिला अस्पताल में सात करोड़ की लागत से तैयार नई एमसीएच यूनिट को शुरू करने को लेकर भी जिला कलक्टर ने निर्देश दिए। इस पर पीएमओ ने फरवरी के दूसरे सप्ताह में यूनिट शुरू करने की बात कही। दरअसल ट्रांसफार्मर व जनरेटर के अभाव में यूनिट को शुरू नहीं किया जा रहा है और इस दौरान इसकी वारंटी अवधि भी निकली जा रही है।

मार्च में होगी सर्जीकल लाइव कॉंफ्रेंस
बैठक में जिला अस्पताल में मार्च में होने वाली चौथी सर्जीकल लाइव कॉंफ्रेस के लिए 4 लाख रुपए बजट के प्रस्ताव की मंजूरी दी। पीएमओ ने बताया कि इस बार सर्जीकल लाइव कॉंफ्रेंस मार्च में होगी।

ऑपरेशन के दौरान रहे शिशु रोग विशेषज्ञ
बैठक में प्राइवेट अस्पतालों में एमएस गायनी व शिशु रोग विशेषज्ञ नहीं होने के बावजूद सजेरियन होने पर जिला कलक्टर ने आपत्ति जताई। बैठक में जिला कलक्टर ने आरसीएचओ को इस तरह की शिकायतों पर नजर रखने व समय-समय पर जांच करने के निर्देश दिए।

Anurag thareja Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned