प्रियंका गांधी के रोड शो के बाद यूपी की सियासत में बन रहे नए समीकरण, यह बड़े नेता थाम सकते है कांग्रेस का हांथ !

प्रियंका गांधी के रोड शो के बाद यूपी की सियासत में बन रहे नए समीकरण, यह बड़े नेता थाम सकते है कांग्रेस का हांथ !

Neeraj Patel | Publish: Feb, 12 2019 11:19:31 AM (IST) | Updated: Feb, 12 2019 03:00:23 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

कांग्रेस महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी के लखनऊ में हुए रोड शो से उमड़े लोगों में और कांग्रेसियों में उत्साह के बाद यूपी की सियासत में नए समीकरण बनते दिख रहे हैं।

हरदोई. कांग्रेस महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी के लखनऊ में हुए रोड शो से उमड़े लोगों में और कांग्रेसियों में उत्साह के बाद यूपी की सियासत में नए समीकरण बनते दिख रहे हैं। सूत्रों की मानें तो प्रियंका का लखनऊ का दौरा और प्रवास लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक समीकरण की नई पटकथा लिखी जा सकती है।

आपको बता दें कि प्रियंका गांधी के लखनऊ में हुए रोड शो की चर्चा पूरे प्रदेश में ही नहीं बल्कि पूरे देश में हो रही है और इन चर्चाओं के बीच प्रियंका गांधी को लेकर यूपी में कांग्रेस की हाशिए पर पड़े संगठन को मजबूत करने से लेकर लोकसभा चुनाव में मजबूत प्रत्याशियों को उतारने और चुनाव जीतने की रणनीति को लेकर बड़ी जिम्मेदारी उन पर महसूस की जा रही है। प्रियंका गांधी की राजनीति में पूरी तरह से सक्रिय भागीदारी ने लोगों का ध्यान कांग्रेस की ओर आकर्षित किया है। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन कितना और कैसा रहेगा, यह तो आने वाला समय बताएगा। फिलहाल तमाम लोग अब कांग्रेस में अपना भविष्य तलाशने के लिए कांग्रेस का हाथ थामने से लेकर अपने करीबी लोगों से इस ओर सलाह मशवरा शुरू कर रहे है।

सूत्रों की मानें तो कुछ बड़े नेता काग्रेस में वापसी से लेकर कांग्रेस का हाथ थामने को लेकर विचार विमर्श में है। ऐसा माना जा रहा है कि लोकसभा चुनाव से पहले कुछ जाने-माने पहचाने और बड़े चेहरे राजनीतिक चेहरे कांग्रेस में एंट्री कर यूपी की सियासत में नई पटकथा लिख सकते हैं हालांकि अभी उन नामों की चर्चा करना और उनको यहां पर लिखना जल्दबाजी होगी। उन बड़े नामों से जुड़े कुछ लोगों की मानी जाए तो हरदोई सीट और मिश्रिख सीट को लेकर इनकी निगाहें है।

आपको बता दें उनमें से कुछ चेहरे ऐसे हैं जो पूर्व में विभिन्न दलों से चुनाव लड़ चुके है और अब राजनीति में भविष्य को लेकर असमंजस में है। ऐसे में वे इस ओर न केवल विचार कर रहे हैं बल्कि कांग्रेस में अपने भविष्य को भी तलाशने के लिए राजनीतिक और सियासी पंडितों के सियासी समीकरण पर नजर बनाएं हुए हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned