SC/ST आयोग की उपाध्यक्ष ने दिया बयान, कहा- एक्ट में ऐसा कोई संशोधन नहीं, जिससे हंगामा हो

SC/ST आयोग की उपाध्यक्ष ने दिया बयान, कहा- एक्ट में ऐसा कोई संशोधन नहीं, जिससे हंगामा हो

Akansha Singh | Publish: Sep, 13 2018 01:26:26 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ अगड़ी जातियों का बीजेपी के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा है।

हरदोई. एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ अगड़ी जातियों का बीजेपी के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा है। आने वाले कुछ घंटे बीजेपी सरकार और संगठन के लिये मुश्किल भरे हो सकते हैं। एससी/एसटी एक्ट में हुए संशोधन को लेकर हो रहे हंगामे के बीच हरदोई पहुंचीं प्रदेश अनुसूचित जाति/जनजाति आयोग की उपाध्यक्ष पूर्णिमा वर्मा ने बयान दिया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि एक्ट में संशोधन को लेकर जो हंगामा किया जा रहा है, वह गलत है। एक्ट में ऐसा कुछ भी संशोधन नहीं किया गया है, जो हंगामे जैसा हो।

बता दें कि उपाध्याक्ष बनने के बाद पहली बार हरदोई पहुंचीं थी। जहां उनका भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा जोरदार स्वागत किया। हरदोई में उन्होने लोक निर्माण विभाग के डाक बंगले में पत्रकारों से वार्ता की। जिसमें पूर्णिमा वर्मा ने कहा कि एक्ट के संशोधन पर बीजेपी अपने स्टैंड पर कायम है। उन्होंने कहा कि देश भर में जो हंगामा किया गया, वह गलत है क्योंकि एक्ट में ऐसा कोई संशोधन नहीं किया गया है, जिससे हंगामे जैसी बात हो।

यह भी पढ़ें - 06 सितंबर को सवर्णों का भारत बंद , 05 सितंबर को इस जगह इकट्ठे होंगे 2 लाख लोग


जब पूर्णिमा वर्मा से यह पूछा गया कि एक्ट में क्या संशोधन किए गए हैं तो इसके जवाब में वह कुछ नहीं बता पाईं। पास में बैठे पूर्व जिलाध्यक्ष राजीव रंजन मिश्र ने मोबाइल दिया, जिसको देखकर भी पूर्णिमा कुछ नहीं बता पाईं। हालांकि राम मंदिर के मुद्दे को लेकर उन्होंने कहा कि राम मंदिर का मुद्दा कोर्ट में है और जो निर्णय आएगा वह माना जायेगा। इस दौरान पूर्णिमा वर्मा कई सवालों पर कन्नी काट गईं। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें - Bharat Bandh : SC-ST एक्ट पर बिफरे सवर्ण, कहा- 2019 में बीजेपी को चुकानी पड़ेगी कीमत, देखें वीडियो

यह भी पढ़ें - पहली बार इतने बड़े पैमाने पर सफाईकर्मियों की भर्ती करने जा रही सरकार, सिर्फ इनको मिलेगा मौका, अच्छी सैलरी के साथ मिलेंगे ये फायदे

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned