हाथरस में ऐसा क्या हुआ कि डीआईजी, कमिश्नर, एसपी, डीएम सहित तमाम अधिकारियों को लगानी पड़ी 'दौड़'

हाथरस में ऐसा क्या हुआ कि डीआईजी, कमिश्नर, एसपी, डीएम सहित तमाम अधिकारियों को लगानी पड़ी 'दौड़'

Amit Sharma | Publish: Sep, 07 2018 07:06:36 PM (IST) Hathras, Uttar Pradesh, India

रेलवे के बड़े अधिकारी, डीआईजी कमिश्नर व पूरा जिला प्रशासन पहुंचा मौके पर। दिल्ली हावड़ा रेल मार्ग की तमाम एक्सप्रेस पैसेंजर सुपरफास्ट ट्रेन हुईं प्रभावित।

हाथरस। यूपी के हाथरस में दिल्ली हावड़ा ट्रैक पर आज हजारों कुलियों ने ट्रैक को बाधित कर दिया। जिससे दिल्ली हावड़ा रेल मार्ग की तमाम एक्सप्रेस पैसेंजर सुपरफास्ट ट्रेन प्रभावित हो गईं। यहां देश भर से हजारों की संख्या में कुलियों ने आकर प्रदर्शन किया। कुलियों की मांग है कि उन्हें ग्रुप डी में भर्ती कर सरकारी नौकरी दी जाये।

देश के हर प्रान्त से आये कुलियों ने लगाया जाम

देश भर से आये कुलियों ने रेल रोको आंदोलन के तहत हाथरस जंक्शन और टूंडला रेलवे स्टेशन के बीच में ट्रैक पर कब्जा कर लिया और वह ट्रैक पर ही बैठ गए। कुलियों का कहना है कि 2008 में उन्हें ग्रुप डी में नौकरी दी गई थी लेकिन 2009 में इस पर रोक लगा दी गई। कोई भी कुलियों की तरफ नहीं सोच रहा है। वह रेल अधिकारियों से लेकर प्रधानमंत्री तक से मिल लिए लेकिन किसी ने कोई सुनवाई नहीं की इसलिए आज उन्होंने रेल रोको आंदोलन के तहत ट्रैक बाधित कर दिया है। उधर जिला प्रशासन और रेलवे प्रशासन प्रदर्शनकारियों को समझाने में लगा रहा लेकिन कुली अपनी मांगों पर डटे रहे।

पांच घंटे तक कई ट्रेनें रहीं प्रवाभित

सुबह करीव आठ बजे से एक बजे तक इस रूट की सारी रेल प्रभावित रहीं। यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस रूट पर सभी बड़ी बड़ी और दूर तक की रेल निकलती हैं लेकिन कुलियों के प्रदर्शन के चलते ट्रेन नहीं पहुंच सकीं। रेलवे अधिकारियों से वार्ता के बाद ही एक बजे करीब ट्रैक से प्रदर्शनकारी कुली हटे उसके बाद रेलवे मार्ग सुचारु किया गया।

मौके पर पहुंचे आलाधिकारी

हजारों की संख्या में देश भर से आये कुलियों के प्रदर्शन की सूचना पर जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया और जिलाधिकारी से लेकर एसपी और उनके सभी अधीनस्त कर्मचारी फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। रेलवे विभाग के भी बड़े अधिकारी मौके पर पहुंचे।

Ad Block is Banned