कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव

गर्मियों के आम दिनों में स्विमिंग पूल में उतरने के दिन अब गए, कोरोना संक्रमण के बीच खुद को संक्रमित होने से बचाने के लिए एहतियात ही बनेगी सुरक्षा ढाल

By: Mohmad Imran

Updated: 11 Jun 2020, 01:23 PM IST

कोरोना वायरस संक्रमण (corona virus pandemic) ने हमारी दिनचर्या के हर पहलू पर अपना असर छोड़ा है। बात खाने-पीने की हो या काम करने की, परिवार संग बाहर जाने की हो या खरीदारी अथवा जिम-स्विमिंग की, आज हमें कदम फूंक-फूंक कर रखने पड़ रहे हैं। तीन महीने पहले जो काम हमारे लिए बेहद सामान्य थे आज उन्हें करने से पहले हमें बार-बार सुरक्षा मानकों (safety points) को पुख्ता करना पड़ रहा है। जिमिंग, जॉगिंग और योगा क्लासेज में मास्क, सेनिटाइजर और फिजिकल डिस्टेंसिंग (social distancing) सबसे अनिवार्य नियम बन चुके हैं। गर्मी के इस मौसम में स्विमिंग से न केवल शरीर को ठंडक मिलती है बल्कि कैलोरी बर्न करने में भी यह बेहद सहायक व्यायाम है। लेकिन लॉकडाउन के बाद क्या सार्वजनिक पूल में उतरने से पहले किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है ताकि हम किसी संक्रमित या साइलेंट स्प्रेडर (silent spreaders) के संपर्क में न आएं।

कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव

हालांकि अमरीकी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) का कहना है कि इस बात के अभी तक कोई प्रमाण नहीं मिले हैं कि कोरोना वायरस (COVID-19)सार्वजनिक स्विमिंग पूल के पानी में तैरने के दौरान मनुष्यों में फैल सकता है। इस प्रकार के पानी में प्राकृतिक झीलों, महासागरों और समुचित रूप से रासायनिक रूप से उपचारित सार्वजनिक पूल और वाटर पार्क शामिल हैं। वहीं सीडीसी का यह भी कहना है कि भले ही सार्वजनिक स्विमिंग पूल या वॉटर पार्क के पानी में नहाने या तैरने से कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा कम हो लेकिन पानी के भीतर और आसपास होने वाली गतिविधियों से अब भी स्वास्थ्य जोखिम बरकरार हैं। आइए जानते हैं एक्सपर्ट के बताए उन सुझावों के बारे में जो स्विमिंग पूल में उतरने से पहले जान लेना बेहद जरूरी है।

कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव

सामाजिक दूरी बनाए रखें (MAINTAIN SOCIAL DISTANCING)
घर हो या सार्वजनिक स्विमिंग पूल पानी के भीतर और पूल के बाहर हर समय लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखें। क्लोरीन या ब्रोमीन कीटाणुनाशक केवल किसी सार्वजनिक पूल में पानी को वायरस से मुक्त कर सकते हैं। लेकिन वैज्ञानिकों की असली चिंता तो मुख्य रूप से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में कोरोनोवायरस के फैलने से संबंधित हैं। कोविड-19 वायरस छींक और खांसी के दौरान निकलने वाली बेहद छोटी बूंदों (AEROSOLE DROPLETS) के जरिए बहुत तेजी से फैलती हैं। इम्यूनोलॉजी (IMMUNOLOGY) में पीएचडी करने वाले रॉबर्ट किगली का कहना हैकि पानी में 6 फीट की दूरी बनाए रखना आसान नहीं है और यही वह अवसर है जब स्विमिंग पूल में संक्रमण के फैलने की सबसे ज्यादा आशंका होती है।

कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव

पूल के बाहर मास्क पहनें (ALWAYS WEAR MASK OUTSIDE THE POOL)
जब तक आपपानी में हैं जितना हो सके सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की कोशिश कीजिए और लोगों के संपर्क में आए बिना अपना समय जल्द पूरा करने की कोशिश करें। लेकिन जब आप पूल से बाहर हों तो सावधानी और ज्यादा रखने की जरुरत होगी। पूल से बाहर हमेशा चेहरे पर मास्क लगाए रहें। लोगों से छह फीट की दूरी रखें। हाथ से चेहरे, आंख, नाक, कान और बालों को न छुएं। आराम कुर्सी, तौलिया, बाथरूम और सीढिय़ों पर लगी रैलिंग को न छुएं, हाथों को सैनिटाइज करते रहें।

कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव

भीड़ में जाने से बचें (AVOID CROWD)
चूंकि गर्मी के दिन हैं और लॉकडाउन में छूट के चलते फन पार्क, वॉटर वल्र्ड, मॉल, रूफ-टॉप पूल, पब्लिक स्विमिंग पूल और नदी-झरने वाले ज्यादातर हिस्से खुल चुके हैं। इसलिए जितना संभव हो भीड़ का हिस्सा बनने से बचें। समर पूल पार्टीज (SUMMER POOL PARTIES) में शिकरत करने से भी परहेज करें। अगर ऐसीपूल-पार्टीज में जा भी रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि वहरां 25 से 30 लोगों से ज्यादा न हो और सभी कोरोना गाइडलाइंस का पूरा ध्यान रख रहे हों। ऐसी जगह अपनी सनस्क्रीम, टॉवेल, हैडफोन, लोशन या ऐसे ही अन्य निजी उपयोग की चीजों को भी शेयर करने से बचें।

कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव

सुविधाओं का ध्यान से करें उपयोग (ALWAYS MIND USINGPUBLIC FACILITIES)
तैराकी के लिए आने वाले लोगों के लिए एक और खतरा सार्वजनिक रूप से साझा किए जाने वाले सुविधा क्षेत्र से हैं। सीडीसी के अनुसार, पिकनिक टेबल, लॉकर, हैंड रेल, लाउंज चेयर या पब्लिक टॉयलेट जैसी कोई भी चीज जिसे हम जाने-अनजाने स्पर्श करते हैं संक्रमण के प्रसार का कारण बन सकती है। क्योंकि कोरोनोवायर मेटल की सतह पर कई दिनों तक रह सकते हैं। इसके लिए प्रबंधन के साथ आने वालों को भी खास ध्यान रखना होगा। आगंतुकों ओर कर्मचारियों द्वारा दिन में कम से कम दो बार छुए जाने वाली किसी भी सतह को साफ और कीटाणुरहित करना, दरवाज़े के हैंडल, पूल की सीढ़ी, शावर, चेंजिंग रूम और लाउंज कुर्सियों पर विशेष ध्यान देना होगा।

कोरोना वायरस के दौरान अगर स्विमिंग करने जा रहे हैं तो जानें एक्सपट्र्स के बताए ये खास सुझाव
Mohmad Imran Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned