scriptसावधान! मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल पुरुषों को बना सकता है नपुंसक! | Patrika News
स्वास्थ्य

सावधान! मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल पुरुषों को बना सकता है नपुंसक!

6 Photos
2 months ago
1/6

Excessive Use of Mobile Phones : आजकल स्मार्टफोन ने हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बना लिया है। यह न केवल हमें लोगों और रिश्तेदारों के साथ जुड़ा रखता है, बल्कि मनोरंजन का भी एक मुख्य स्रोत बन गया है। लेकिन इसके साथ ही, लोग अब अपने स्मार्टफोन को हाथ से नहीं छोड़ते हैं। इंटरनेट और स्मार्टफोन के प्रसार के साथ, इसका उपयोग बेहद बढ़ गया है। यह न केवल हमारी सेहत और आंखों पर बुरा असर डालता है, बल्कि एक शोध के अनुसार, यह पुरुषों को नपुंसक बना सकता है। आइए इसके प्रभाव को समझने का प्रयास करें।

2/6

क्या है एक्सपर्ट्स का मानना

विशेषज्ञों के अनुसार, मोबाइल फोन का अधिक उपयोग न केवल स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, बल्कि पुरुषों में नपुंसकता की समस्या को भी उत्पन्न कर सकता है। नवीनतम अध्ययनों के अनुसार, अधिक मोबाइल फोन उपयोग करने वाले व्यक्ति की शुक्राणुओं की संख्या में कमी हो सकती है और उनकी क्वालिटी भी प्रभावित हो सकती है। इस बात का अध्ययन करने वाले कई फर्टिलिटी विशेषज्ञों ने इस विषय पर चेतावनी दी है कि लोगों को मोबाइल फोन का उपयोग संयंत्रित रखना चाहिए।

3/6

रिसर्च का दावा
भारत में विज्ञान और चिकित्सा क्षेत्र में अध्ययनों ने मोबाइल फोन के अधिक इस्तेमाल का सीधा प्रभाव दिखाया है। 2008 में मणिपाल के कस्तूरबा अस्पताल में एक अध्ययन ने पुरुषों के स्पर्म क्वालिटी में गिरावट को उजागर किया। दिल्ली के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज ने भी तीन दशक के दौरान स्पर्म की संख्या में कमी का दावा किया। लखनऊ के सेंट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीट्यूट के अध्ययन में भी वीर्य की संरचना और गतिविधि में गिरावट का पता चला। ये अध्ययन इस बात को साबित करते हैं कि मोबाइल फोन का अत्यधिक उपयोग पुरुषों की स्पर्म क्वालिटी पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

4/6

आंखों के लिए है नुकसानदेह
स्मार्टफोन का अधिक इस्तेमाल हमारी आंखों के लिए खतरनाक हो सकता है। फोन की ब्राइटनेस और लगातार इस्तेमाल से आंखों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। फोन की रोशनी सीधे रेटिना पर पड़ती है, जिससे आंखों की समस्याएं बढ़ सकती हैं। इसके अलावा, धीरे-धीरे देखने की क्षमता भी कम हो सकती है, जिससे सिर में दर्द और अन्य समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि हम अपने आंखों की देखभाल के लिए स्मार्टफोन का सही उपयोग करें।

5/6

मोबाइल फोन का उपयोग हमारे हृदय के लिए भी हानिकारक हो सकता है। इसका रेडिएशन न केवल व्यक्ति के डीएनए स्ट्रक्चर पर असर डालता है, बल्कि दिल को भी प्रभावित कर सकता है। एक्सपर्टों के अनुसार, मोबाइल फोन को पेंट की जेब में रखने से उसकी रेडिएशन पेल्विक बोन्स को कमजोर और घनत्व को कम कर सकती है।

6/6

इससे बचने का क्या है उपाय

इससे बचने के लिये जरूरी है कि ऑफिस आते-जाते समय मोबाइल को अपने बैग में रखें। सोते-उठते-बैठते समय भी इससे थोड़ी दूरी बनाये रखें। मोबाइल चार्ज करते समय बात करने की गलती न करें । यह सेहत के लिए कई गुना नुकसानदायक होता है। इसका सीधा असर पुरुषों के स्पर्म पर पड़ता है।

loksabha entry point
अगली गैलरी
next
Copyright © 2024 Patrika Group. All Rights Reserved.