हिदायत के बाद भी वाहनों से निकले, दुकानों के सामने लगाई भीड़

शुक्रवार रात को ही प्रशासन ने शुक्रवार शाम से देर रात तक एनाउंसमेंट कर शनिवार सुबह से वाहनों से आवागमन न करने की हिदायत दी थी,लेकिन लोगों ने इसका पालन नहीं किया।

By: devendra awadhiya

Published: 29 Mar 2020, 12:54 PM IST

होशंगाबाद. शुक्रवार रात को ही प्रशासन ने शुक्रवार शाम से देर रात तक एनाउंसमेंट कर शनिवार सुबह से वाहनों से आवागमन न करने की हिदायत दी थी,लेकिन लोगों ने इसका पालन नहीं किया। दुकानों के सामने वाहन खड़े कर भीड़ लगा ली। शिकायत के बाद तहसीलदार-नायब तहसीलदार की टीम ने पहुंचकर दुकानदारों को फटकार लगाते हुए लोगों को भी समझाइश दी। हाऊसिंग बोर्ड बड़े हनुमान मंदिर चौराहे पर किराना दुकानों के सामने लोगों ने वाहन खड़े कर भीड़ लगा ली थी। यही स्थिति बाजार सहित कोठीबाजार, मालाखेड़ी इलाके में भी बन गई थी। प्रशासन की टीम ने पहुंचकर व्यवस्थाओं को सुचारू बनाया। कुछ दुपहिया वाहनों के पहियों की हवा भी निकाली गई।

पुलिस ने सख्त की चैकिंग, वाहन लौटाए
शनिवार को सुबह लॉकडाउन में सुबह 8 से सुबह 11 बजे तक की दी गई छूट के दौरान लोग वाहन से आवागमन कर रहे थे। हरियाली चौराहा, मीनाक्षी चौक, एनएमवी कॉलेज तिराहा, ओवर ब्रिज तिराहा, भोपाल तिराहा, रसूलिया रोड, कोठीबाजार रोड, बाजार इलाके में पुलिस टीमों ने वाहन चालकों को रोका और आवागमन का वाजिब कारण पूछा। दस्तावेज-पास भी चैक किए। जो लोग बिना कारण के आवागमन कर रहे थे, उनके वाहनों को वापस घरों को लौटाया गया। लॉक डाऊन का पालन कराने में पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

बाजार में हो कालाबाजारी, महंगे दाम में बेच रहे सामग्री
होशंगाबाद. लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने के दौरान जो ढील का समय दिया गया है, उस दौरान खुल रही दुकानों में कालाबाजारी-जमाखोरी सहित महंगे दामों में सामग्रियों के बेचने की शिकायतें बढ़ रही है। इस तरह की शिकायतें प्रशासन के पास कई लोगों ने की है। इन शिकायतों की जांच नोडल अधिकारियों से कराकर संबंधित दुकानदारों पर कार्रवाई शुरू हो गई है। जिला फूड एंड सेफ्टी विभाग सहित खाद्य विभाग व प्रशासन के अधिकारी लगातार छापेमारी कर कार्रवाई कर रहे हैं। इधर, लोगों ने हरी सब्जियों व फलों के भी महंगे बेचे जाने की शिकायतें की है। आवश्यक वस्तुओं के दामों पर नियंत्रण नहीं लगने से लोगों को परेशानी हो रही है। आर्थिक नुकसान भी झेलना पड़ रहा है।

कुपोषित बच्चों को भेज रहे घर, एंबुलेंस नहीं मिल रही
होशंगाबाद. जिला अस्पताल के एनआरसी में भर्ती कुपोषित बच्चों को डिस्चार्ज कर घरों को भेजा जा रहा है, लेकिन एंबुलेंस उपलब्ध नहीं कराई जा रही। ऐसा ही मामला बाबई का सामने आया। बाबई के वार्ड 15 का निवासी एनआरसी मरीज राजा पिता परसराम जिला अस्पताल में भर्ती था, जिसकी आज छुट्टी कर दी गई। बच्चे की मां सोना ने घर जाने के लिए अस्पताल प्रबंधन से साधन उपलब्ध कराने को कहा तो जबाब मिला खुद के साधन से घर जाएं। ज्ञात रहे कि लॉक डाउन के चलते बसें, टैक्सियां सहित अन्य वाहन सेवाएं बंद है। इसके बाद भी अस्पताल प्रबंधन एंबुलेंस की व्यवस्था करने में आनाकानी कर रहा है।

devendra awadhiya Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned