नाली निर्माण के विवाद में पूर्व पार्षद के बेटे को ले गई पुलिस, पूर्व नपाध्यक्ष और पार्षदों ने थाने में किया हंगामा

नपा के कच्ची नाली निर्माण को रोकने पर हुआ विवाद

By: sandeep nayak

Published: 28 Jan 2021, 12:02 PM IST

होशंगाबाद/पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल और पार्षदों ने अपने संमर्थकों के साथ बुधवार शाम से देर रात तक हंगामा किया। थाने के परिसर के भीतर नगर पालिका सीएमओ माधुरी शर्मा के खिलाफ लगातार नारे लगाते हुए उन्हें थाने बुलाने की मांग को लेकर अड़े रहे। दरअसल बुधवार को शहर के रसूलिया स्थित वार्ड 22 के राजीव नगर में नपा कच्ची-नाली का निर्माण करने पहुंची थी। इस दौरान वार्ड की पूर्व पार्षद शर्मिला गौर के बेटे संदीप गौर ने इसको लेकर अपत्ति जताई। संदीप गौर का कहना था कि इस तरह के निर्माण से मोहल्ले में गंदगी फैलेगी। अगर नाली का निर्माण करना है तो पक्की नाली का निर्माण किया जाए। गौर के अनुसार इस पर नपा सीएमओ माधुरी शर्मा भड़क गई और एफआईआर कराने की धमकी देने लगी। संदीप गौर ने सीएमओ को बताया इसे लेकर लोगों की अपत्ति है, नाली निर्माण का कोई वर्क ऑर्डर है। तो उन्होंने करीब 5 बजे देहात पुलिस बुलाकर उन्हे थाने भेज दिया। घटना के बाद तुरंत सीएमओ नपा ने अपने मोबाइल फोन को बंद कर लिया। रात को पूरा मामला 10.20 बजे समाप्त हो सका।

सिटी थाने टीआई से विवाद
सुरक्षा व्यवस्था के लिए पहुंची पुलिस में सिटी थाना टीआई संतोष सिंह चौहान पर संजीव मिश्रा भड़क गया। युवक ने टीआई पर आरोप लगाते हुए कहा कि एक अपराधी जिस पर 17 मामले दर्ज हैं, उसके खिलाफ लोकेशन देने पर भी पुलिस पकड़ नहीं रही है। शरीफ और इमानदार लोगों के परिवार के लोगों को अधिकारियों के कहने पर उठाया जा रहा है। मिश्रा ने टीआई से कहा कि नौकरी ठीक से नहीं कर सकते हैं तो नौकरी ही छोड़ दें। इस दौरान चार सफाईकर्मियों पर हुई एफआइआर का मामला भी उठा। पार्षद दीपू पालिवाल का कहना है इस सीएमओ के इस तरह के कृत्य को लेकर कड़ी अपत्ति है। जिसे लेकर गुरुवार को ज्ञापन सौंपा जाएगा। उसके बाद नगरीय प्रशासन मंत्री को सौंपा जाएगा।

वार्ड 22 में कोई निर्माण का मामला है जहां कच्ची नाली निर्माण का विरोध कर रही थी। टीआई का कहना है कि सीएमओ के कहने पर उनको उठाया है। अगर इस तरह से पुलिस काम करने लगे तो जनप्रतिनिधि काम नहीं कर सकेंगे। लोकतंत्र में इस तरह की कार्रवाई की कोई जगह नहीं है। इसे लेकर कलेक्टर और मंत्री से भी शिकायत की जाएगी।
- अखिलेश खंडेलवाल, पूर्व नपाध्यक्ष होशंगाबाद


मोहल्ले में गलत तरह से नाली निर्माण हो रहा था। लोगों ने इसकी शिकायत मुझसे की, क्योंकि हमारी मां पूर्व पार्षद हैं। मैने नपा सीएमओ से इस संबंध में बात की तो मुझे सिपाही बुलाकर देहात थाने भेज दिया गया।
- संदीप गौर, पार्षदपुत्र


हमें सुबह नपा की सीएमओ ने शिकायत की थी कि वार्ड 22 में नाली का निर्माण में युवक परेशान कर रहा है। पुलिस ने उसे थाने ले आया, काम पूरा होने पर उसे जाने को कह दिया। लेकिन वो जाने से मना कर दिया। युवक जनप्रतिनिधि के परिवार से है, इसलिए लोग एकात्रित हो गए हैं। बातचीत के बाद सभी अपने घर को वापस लौट गए।
- एपी सिंह, एडिशनल एसपी

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned