कर रहे थे पुल के नीचे अवैध खनन, पहुंच गई टीम, फि हुआ कुछ ऐसा

कर रहे थे पुल के नीचे अवैध खनन, पहुंच गई टीम, फि हुआ कुछ ऐसा

Sandeep Nayak | Publish: Mar, 17 2019 11:42:03 AM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

टै्रक्टर-ट्रॉली छोड़कर भागे चालक

होशंगाबाद। राजस्व एवं पुलिस की दो टीमों ने शनिवार दोपहर में बांद्राभान-तवा पुल के नीचे रेत के अवैध खनन व परिवहन को लेकर औचक निरीक्षण किया। टीम में एसडीएम आरएस बघेल, एसडीओपी मोहन सारवान, तहसीलदार शैलेंद्र बड़ौनिया सहित बाबई तहसीलदार और देहात थाना प्रभारी दिनेश चौहान शामिल रहे। टीम जैसे ही पुल पर पहुंची तो दो-तीन टै्रक्टर-ट्रॉली वाले भाग गए। टीम ने मनवाड़ा, पवारखेड़ा, मेहराघाट, चपलासर, गुड़ारिया और मोहासा में भी सर्चिंग की। यहां भी मुखबिरी होने से टीम के पहुंचने से पहले ही रेत चोर भागने में सफल हो गए। ग्रामीणों ने बताया कि तवा पुल के आसपास अवैध खनन कर स्टॉक किया जा रहा है। पुल के पास ही रेत का पहाड़ खड़ा कर लिया गया है।

illegal sand mining in hoshangabad

ओवरलोड पकड़े गए 90 डंपरों पर 25 लाख का जुर्माना
इटारसी. पिछले कुछ दिनों में इटारसी पुलिस ने ओवरलोड डंपरों पर कार्रवाई की थी। पुलिस ने 90 डंपरों पर कार्रवाई की थी। इन डंपरों पर न्यायालय ने 25 लाख 21 हजार 800 रुपए का जुर्माना किया है। टीआई विक्रम रजक ने बताया कि पुलिस अधीक्षक एमएल छारी के निर्देश पर विभिन्न स्थानों पर ओवरलोड रेत डंपरों पर कार्रवाई की गई थी। इस कार्रवाई में 90 डंपरों को पकड़कर प्रकरण बनाकर न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय ने इसमें 25 लाख 21 हजार 800 रुपए का जुर्माना किया है।
राजस्व टीम ने जब्त किया रेत का अवैध स्टॉक
सोहागपुर. सोहागपुर राजस्व विभाग की टीम ने ग्राम अकोला के पास नहर सीमेंटीकरण का कार्य कर रही कंपनी के कैंपिंग स्थान से रेत का अवैध स्टाक जप्त किया है। आरआई आरके कौरव ने बताया कि लक्ष्मी कंपनी के कैंप से शनिवार दोपहर लगभग 10 डंपर रेत का स्टाक जब्त किया हैै, जिसकी लिखित जानकारी कंपनी के कर्मचारियों व कैंप के प्रभारियों के पास उपलब्ध नहीं थी। रेत के अवैैध भंडारण के चलते बनाए जाने वाले प्रकरण की लिखित कार्रवाई रात तक की जा रही थी। जानकारी अनुसार प्रकरण बनने के बाद एसडीएम कार्यालय में प्रेषित किया जाएगा। शनिवार को की जा रही कार्रवाई के दौरान पटवारी प्रदीप सराठे व नागेश निवारिया भी उपस्थित थे।
माखननगर. रेत माफियाओं पर शिकंजा कसने एसडीएम आरएस बघेल ने शनिवार दोपहर में आंचलखेड़ा रेत खदान का निरीक्षण कर तहसीलदार आलोक पारे को खदान का सीमांकन करने के निर्देश दिए। नायब तहसीलदार एमएल पवार ने बताया तवा पुल से दो सौ मीटर छोड़कर आंचलखेड़ा खदान की सीमा प्रारंभ होती है। यहां देखा जाएगा कि सीमा से बाहर अवैध खनन तो नहीं हुआ है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned