सरकारी स्कूल में प्रवेश के नाम पर पालकों से हो रही लूट

पालकों से ली जा रही अधिक राशि, शुल्क जमा राशि की रसीद भी नहीं दे रहा स्कूल प्रबंधन

By: govind chouhan

Published: 20 Jul 2018, 05:37 PM IST

माखननगर. अभी तक फीस के नाम पर निजी स्कूल ही अभिभावकों को लूट रहे थे। लेकिन अब सरकारी स्कूल भी इसमें शामिल हो गए है। बाबई जनपद के ग्राम में खारदा सरकारी हाई स्कूल में दाखिले के नाम पर स्कूल प्रभारी द्वारा अधिक राशि की वसूली की जा रही है और अभिभावकों द्वारा मांगने पर रसीद भी नहीं दी जा रही है।
गौरतलब है कि खारदा का हाईस्कूल आदिवासी बहुल है। उसके बाद भी स्कूल प्रबंधन अपनी मनमानी पर उतारु है। अभिभावकों की शिकायत पर जब खारदा हाईस्कूल पर पहुंच कर जानकारी ली तो स्कूल प्रभारी प्रताप सिंह धुर्वे ने बताया कि हम बीईओ के निर्देश पर बच्चों से 1575 रुपए दाखिले के रूप में वसूल रहे हैं। जबकि उच्चाधिकारी को इसकी जानकारी ही नहीं है।

एक-दूसरे पर आरोप लगाते रहे कर्मचारी
स्कूल प्रबंधन से जब इसकी जानकारी ली गयी तो सभी एक दूसरे पर आरोप लगाते नजर आए। जब शिक्षिका सीमा गौर से जानकारी ली तो वे बोली कि मैं प्रभारी प्रतापसिंह धुर्वे के निर्देश पर कार्य कर रही हूं वहीं प्रभारी से बात की गई तो बोले बीईओ के निर्देशों का पालन कर रहा हूं।

पालक बोले नहीं दी जा रही कोई रसीद
विद्यार्थियों से दाखिले के नाम पर कक्षा 9वीं से 1100 रु., कक्षा 10वीं से 1565 रु., कक्षा 11वीं से 1575 रुपए की राशि वसूली जा रही है वह भी बगैर रसीद के। जब इस राशि के बारे में शिक्षिका सीमा गौर से बात की गयी तो उनके पास इसका कोई जवाब नही था बोली आप कहते हैं तो रसीद कट्टा लाकर अभिभावकों को रसीद प्रदान कर दी जाएगी। वहीं पालक जगदीश प्रसाद ने बताया कि फीस जमा करने की स्कूल ने हमें कोई रसीद नहीं दी है।

इनका कहना है...
खारदा हाईस्कूल द्वारा वसूली जा रही अधिक दाखिला फीस की जानकारी नही है। यदि ऐसा है तो उसकी जांच कर कार्रवाई करेंगे और यदि अधिक फीस ली गयी है तो उसे विद्यार्थियों को वापस कराया जाएगा।
-एसएल रघुवंशी, बिकासखंड शिक्षा अधिकारी, बाबई

govind chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned