तेज वाहन चलाने वालों की पुलिस को मिलेगी कुंडली, भरना पड़ेगा भारी जुर्माना

टै्रफिक पुलिस को मिला हाईटेक गैजेट लैस वाहन, तेजी से वाहन चलाने वालों की खैर नहीं,यह वाहन एक स्थान पर ही खड़े रहकर उक्त वाहन वीडियो, फ़ोटो, वाहन नंबर जैसी सारी जानकारी टै्रफिक पुलिस को उपलब्ध करा देगा। इस वाहन से बचना मुश्किल रहेगा।

होशंगाबाद. पुलिस मुख्यालय से जिले को टै्रफिक महकमे को एक नए हाईटेक गैजेट लैस वैन वाहन मिला है। एसपी गुरुकरण सिंह ने बुधवार को इसे हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस स्पेशल वाहन की खासियत ये है कि तेज रफ्तार से वाहन चलाने वालों की अब खैर नहीं रहेगी। वाहन की कुंडली तुरंत ही पुलिस को अपने वाहन में मिल जाएगी। जैसे ही यह वाहन मौके पर पहुंचेगा चालक को भारी जुर्माना भरना पड़ेगा। पुलिस पावर बाइक से स्टंट करने और मनचलों को भी इस वाहन के जरिए पकड़ लेगी।


टै्रफिक डीएसपी आरसी गुप्ता ने बताया कि पुलिस मुख्यालय भोपाल ने पीटीआरआई के माध्यम से प्रदेश के 33 जिलों के साथ ही होशंगाबाद को भी इनटरसेप्टर वैन मिली है। यह वाहन एक किलोमीटर दूर से ही उस वाहन को ट्रेस कर लेगा, जिसकी स्पीड 80 किमी से ज़्यादा मिलेगी। यह वाहन एक स्थान पर ही खड़े रहकर उक्त वाहन वीडियो, फ़ोटो, वाहन नंबर जैसी सारी जानकारी टै्रफिक पुलिस को उपलब्ध करा देगा। इस वाहन से बचना मुश्किल रहेगा। टै्रफिक अधिकारी वाहन से मिली सूचनाओं से अनियंत्रित तेज दौडऩे वाले को रोककर चालक-मालिक पर जुर्माना वसूल सकेगा। इस स्पेशल वाहन को संचालित करने उप निरीक्षक इशान रिछारिया व हेड कांस्टेबल संजय यादव को प्रशिक्षित किया जा चुका है।

साइबर सुरक्षा के प्रति पुलिस कर रही जागरूक
होशंगाबाद. पुलिस मुख्यालय के निर्देशानुसार जिले में पुलिस साइबर जागरूकता माह मना रही है। इसमें ऑनलाइन होने धोखाधड़ी-ठगी आदि की घटनाओं से से बचने व सतर्क रहने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। बताया जा रहा कि अंजान मोबाइल नंबर से प्राप्त वीडियो कॉल को स्वीकार न करें, ताकि सेक्सटार्शन से बचा जा सके। सोशल मीडियापर ऑनलाइन परिचित मित्रों से कभी एकांत में मिलने न जाएं, क्योंकि ऐसा करने से सुरक्षा का खतरा हो सकता है। इसके साथ ही मोबाइल इंटरनेट उपयोग के दौरान आवश्यक सुरक्षा उपाय रखने, किसी भी लॉटरी, इनाम वाले संदेश-लिंक को क्लीक न करें। किसी भी को भी बैंकिंग संंबंधी अहम् जानकारी साझा न करें।

गुमे दो बच्चों को पुलिस ने उनके परिवार से मिलाया
होशंगाबाद. पीपलमोहल्ला इटारसी से गुमे दो बच्चों को डायल-100 पुलिस की टीम ने उनके नाम पते खोजकर उन्हें घर पहुंचाकर परिवार से मिलाया। डायल योजना प्रभारी केपी गौर ने बताया कि कॉलर विराज हैरियट ने सूचना दी थी कि 8 एवं 12 वर्ष के दो बच्चे राइस मिल के पास पशु आहार फैक्ट्री के सामने अकेले मिले हैं, जो अपने घर व परिवार से बिछड़ गए हैं। सूचना के बाद डायल टीम के प्रधान आरक्षक हेमंत सिंह, पायलेट रीतेश चौधरी पथरौटा नोडल पाइंट से मौके पर पहुंचे। बच्चों पूछताछ में माता-पिता व घर का पता नहीं बता पा रहे थे। दोनों को गाड़ी में बैठाकर खोजबीन शुरू की। एक बच्चे ने इटारसी तरफ का अंगुली से इशारा किया। बच्चे व्दारा बताए पते के आधार पर दोनों को परिजनों को सुपुर्द किया गया। इन बच्चे की पहचान बिलाल पिता नूर मोहम्मद (8) एवं यामीन पिता जुल्फकार अली(12) निवासी वार्ड नंबर 9 पीपल मोहल्ला इटारसी के रूप में हुई। इसमें यामीन जबलपुर निवासी है, जो थोड़ा मानसिक विकलांग है एवं जबलपुर से अपने परिजनों के यहां आया हुआ था।

नवरात्र पर्व के दौरान भी ओवरब्रिज पर अंधेरा छाया
होशंगाबाद. शहर में एकमात्र ओवरब्रिज पर भी नवरात्र पर्व के दौरान अधिकांश स्ट्रीट लाइटें नहीं जलने से अंधेरा छाया हुआ। लोगों को रात में आवागमन में दिक्कतें उठनी पड़ रही है। अधिकांश खंभों की लाइटें बंद पड़ी है। रसूलिया क्षेत्र के पूर्व पार्षद पवन पटेल ने बताया कि नगरपालिका को नवरात्रि प्रारंभ होने के पूर्व सूचना दी गई थी, लेकिन बार-बार निवेदन के बाद भी ब्रिज की बंद पड़ी लाइटों को नहीं बदला गया। दशहरा पर्व पर भी लोगों की भीड़ बढ़ेगी। शहर का अधिकांश आवागमन ओवर ब्रिज से ही होता है। सलकनपुर देवीधाम दर्शन के लिए रात्रि में जाने वाले पैदल यात्रियों को सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है।

devendra awadhiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned