डबल मर्डर की दो बार बंद हुई फाइल, अब तीसरी बार खुलेगी, पढ़ें सीरियल किलर की पूरी कहानी

डबल मर्डर की दो बार बंद हुई फाइल, अब तीसरी बार खुलेगी, पढ़ें सीरियल किलर की पूरी कहानी

yashwant janoriya | Publish: Sep, 10 2018 01:43:47 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

सीरियल किलर आदेश खांबरा, कांटे्रक्टर लाल सिंह सोलंकी व रामभरोस से होगी पूछताछ

होशंगाबाद. सिवनीमालवा के शिवपुर गांव के शाहपुर में 2013 में जमीन विवाद में की गई बुजुर्ग गेंदालाल कीर उसकी पत्नी कौशल्याबाई की हत्या की फाइल दो बार बंद होने के बाद फिर से खुलेगी। एसपी अरविंद सक्सेना ने रविवार शाम को सिवनीमालवा एसडीओपी एसएल सोनिया के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम को औबेदुल्लागंज भेजा। टीम लाल सिंह सोलंकी और रामभरोसे जाट सहित सीरियल किलर आदेश खांबरा से पूछताछ करेगी। सीरियल किलर आदेश के खुलासे के बाद औबेदुल्लागंज पुलिस ने दंपति के पुत्र जगदीश की हत्या का मामला भी दर्ज किया है।
खांबरा ने किया था खुलासा - आदेश खांबरा ने पूछताछ में बताया है कि उसे एक कान्ट्रेक्टर ने जगदीश कीर की हत्या के लिए 25 हजार की सुपारी दी थी। उसने 30 अप्रैल 2016 की शाम वह जगदीश को बरखेड़ा के जंगल में ले जाकर नींद की गोली मिली शराब पिलाई और रेलवे ट्रैक पर लिटा दिया था। मामले में बरखेड़ा पुलिस चौकी ने बाद में साधारण हादसा मानते हुए खात्मा भी लगा दिया था।

यह था पूरा घटनाक्रम - गेंदालाल कीर और पत्नी कौशल्याबाई की 22 एकड़ जमीन थी। इसमें करीब 10 एकड़ जमीन मंडीदीप के लाल सिंह सोलंकी ने बटाई पर ली थी। गेंदालाल ने 12 एकड़ पर बैंक से लोन लिया था। लोन नहीं चुकाने पर बैंक ने जमीन कुर्की कर दी थी। कुर्की में बैंक से यह जमीन शिवपुर के रामभरोसे जाट ने खरीदी थी। बाद में गेंदालाल ने कोर्ट के आदेश पर उक्त जमीन वापस ले ली थी। गेंदालाल के दोनों लड़के जगदीश व प्रकाश मंडीदीप में रह रहे थे। 26-27 मई 2013 को बुजुर्ग गेंदालाल और कौशल्याबाई की गला दबाकर उसकी टपरिया में हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने 21 अगस्त 2013 को अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस भी दर्ज किया। शक की सुई पुत्र जगदीश पर गई थी। परेशान जगदीश ने माता-पिता की हत्या का संदेह बंटाईदार लालसिंह पर जताया। इसकी दस बार शिकायतें की थी। जिसमें एक कान्टे्रक्टर समेत कुछ लोगों पर हत्या का आरोप लगाया था। लेकिन जांच के बाद वर्ष 2015 और 2017 में खात्मा लगाकर पुलिस ने फाइल बंद कर दी थी। इसके बाद वर्ष 2016 में जगदीश की भी लाश बरखेड़ा के रेलवे टे्रक पर मिली थी। मृतक के मामा ने मंडीदीप के इफरान नामक युवक पर जगदीश की हत्या कर लाश को टे्रक पर फेंकने का संदेह जताया था।
आदेश के खुलासे पर फिर खुलेगी फाइल - भोपाल में सीरियल किलर आदेश खांबरा के खुलासे के बाद माता-पिता और पुत्र की हत्या की बंद फाइल पुलिस फिर से खोल रही है। एसपी अरविंद सक्सेना ने बताया कि बुजुर्ग दंपति की हत्या के प्रकरण को रिकॉल किया जा रहा है। शिवपुर थाना प्रभारी को प्रारंभिक जानकारी एकत्रित करने भोपाल भेजा था। रविवार को बुजुर्ग दंपति की हत्या के आरोपियों का सुराग लगाने सिवनीमालवा एसडीओपी एसएल सोनिया के नेतृत्व में 5 सदस्यीय टीम भेजी गई है। इसमें शिवपुर थाना प्रभारी सुशील पटेल, सिवनीमालवा थाना प्रभारी अजय तिवारी सहित दो कांस्टेबल शामिल हैं। टीम जांच करेगी की जगदीश की मौत कैसे हुई थी। वह मर्ग था या हत्या। इसमें लालसिंह सोलंकी, इफरान, रामभरोस जाट से सघन पूछताछ की जाएगी। एसपी ने बताया कि औबेदुल्लागंज पुलिस ने जगदीश की मौत के मामले में हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

hoshangabad
Ad Block is Banned