ट्रेन में कच्चा माल सप्लाई करने वाले कर्मचारी से मारपीट, जीआरपी ने किया अपराध दर्ज, इधर ट्रेन में अवैध खाना बेचते पांच गिरफ्तार

प्लेटफार्म की बजाय ट्रेन में खाना बेचते पांच लोगों को आरपीएफ ने किया गिरफ्तार

By: Manoj Kundoo

Published: 05 Mar 2021, 09:00 PM IST

इटारसी
इटारसी स्टेशन से आने-जाने वाली दून कैटर्स की ट्रेनों में खानपान का कच्चा माल सप्लाई करने वाले एक कर्मचारी के साथ स्टेशन पर दो लोगों ने जमकर मारपीट की। मामले में जीआरपी ने फरियादी की शिकायत पर दोनों आरोपियों के खिलाफ मारपीट व जान से मारने की धमकी देने का अपराध दर्ज किया है। खास बात यह है कि मारपीट करने वाले दोनों आरोपी अलग-अलग खानपान ठेका कंपनियों से जुड़े हुए हैं। रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर ६ पर आई संघमित्रा एक्सप्रेस में दून कैटर्स द्वारा खानपान सामग्री की सप्लाई की जाती है। इस कंपनी के स्थानीय कर्मचारी संजय बाबनिया (४०) निवासी बजरंगपुरा चावल व अन्य सामान पहुंचाने जा रहे थे। इसी दौरान आरोपी अज्जू तिवारी और दीपू तोमर ने उसे रोकते हुए गालीगलौच की और थोड़ी ही देर में हाथापाई शुरू कर दी। दोनों आरोपियों ने संजय को हाथ मुक्कों से मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी। मारपीट के दौरान प्लेटफार्म पर अफरा-तफरी मच गई थी।

गंदगी के बीच बनता है यात्रियों का खाना-
रेल यात्रियों के लिए स्टेशन पर सप्लाई किया जाने वाला खाना गंदगी के बीच लापरवाही से बनाया जाता है। इसका खुलासा पिछले दिनों एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी और जिला खाद्य औषधि विभाग की टीम द्वारा छापामार कार्रवाई में किया गया था। बारह बंगला और मालवीयगंज में गंदगी के बीच रेल यात्रियों का खाना बनते पाया गया था। एसडीएम रघुवंशी ने कहा कि बारह बंगला और मालवीयगंज इलाके में छापा मारा था। यहां घरों के भीतर गंदगी के बीच रेल यात्रियों के लिए खाना बनाया जा रहा था। मौके से खानपान के नमूने लिए और यहां काम करने वालों को सफाई नहीं रखने पर फटकार लगाई थी। टीम को मौके से कुछ संदिग्ध खाद्य पदार्थ के साथ भारी गंदगी मिली थी। इसके अलावा टीम को दोनों जगहों से घरेलू गैस सिलेंडर भी मिले थे। जिनका व्यवसायिक उपयोग किया जा रहा था।

प्लेटफार्म की बजाय ट्रेन में बेच रहे थे खाना-
अवैध वेंडिंग के खिलाफ आरपीएफ द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। गुरुवार को आरपीएफ ने ट्रेन के भीतर अवैध रूप से खानपान सामग्री बेचने वाले पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ रेलवे अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। आरपीएफ इंसपेक्टर देवेंद्र कुमार ने बताया कि इन सभी वेंडर प्लेटफार्म पर खानपान सामग्री बेचने के लिए अधिकृत हैं। बावजूद इसके ट्रेन के भीतर घुसकर खानपान बेच रहे थे। आरपीएफ ने प्रभात चौधरी निवासी पटेल मोहल्ला मेहरागांव, भूरा खान नाला मोहल्ला, पुरुषोत्तम नाथ नाला मोहल्ला, विजय राम मालवीयगंज, हर्षित सिंह नाला मोहल्ला के खिलाफ कार्रवाई की है।

इनका कहना है...
अवैध वेंडरों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। प्लेटफार्म पर अधिकृत किए गए पांच वेंडर ट्रेन के भीतर खानपान बेच रहे थे। जिनके खिलाफ कार्रवाई की गई।
-देवेंद्र कुमार, निरीक्षक आरपीएफ

Manoj Kundoo Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned