वाह! 2 लोगों की आबादी वाला शहर फिर भी होता है Corona के नियमों का सख्त पालन

इटली के नोर्टोस्के (Nortosce) में महज दो लोग रहते हैं लेकिन इसके बाद भी ये दोनों लोग कोरोना (Corona) के नियमों का सख्त पालन होता है।

By: Vivhav Shukla

Published: 20 Oct 2020, 09:22 PM IST

नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना वायरस ने कोहराम मचा रखा है। 4.04 करोड़ से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 11.2 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। लेकिन अब भी कई जगह ऐसी है जहां के लोग कोरोना को लेकर उतनी गंभीरता नहीं दिखा रहे। ऐसे लोगों को इटली के नोर्टोस्के (Nortosce) में रहने वाले जियोवनी कैरिली (82) और जियाम्पियरो नोबिली (74) (Giovanni Carilli and Giampiero Nobili )से सबक लेने की जरूरत है।

बेटों ने रोटी देनी बंद की तो खुद दूसरों का पेट भरने लगीं 'रोटी वाली अम्मा', अब है मदद की जरूरत

 

2_10.jpg

दो लोगों का कस्बा

दरअसल, नोर्टोस्के एक ऐसा कस्बा है जहां केवल यही दोनो रहते हैं लेकिन इसके बाद भी ये दोनो लोग कोरोना के सभी नियमों का सख्ती से पालन करते हैं। पेरुजा प्रांत के उम्ब्रिया में स्थित राज्य में मौजूद इस कस्बे में केवल यही दोनों रहते हैं। इनके अलावा यहां पर कोई नहीं है लेकिन दोनो सेवानिवृत्त बुजुर्ग अपनी सेहत का ध्यान रखते हुए कोरोना के नियमों का पालन कर रहे हैं। कोरोना काल में ये दोनों शहर के कहीं भी बाहर नहीं गए।

बच्‍चों को कुश्‍ती सिखाने के लिए शख्स ने गिरवी रखा खेत, पैसे उधार मांग बना दिया अखाड़ा

 
 
1_3.jpg

अकेले में भी लगाते हैं मास्क

बता दें दो लोगों की आबादी ये शहर टूरिस्ट के बीच काफी फेमस है। ये शहर लगभग 900 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है जहां तक पहुंचना और वहां से वापस लौटना काफी मुश्किल होता है। यहां रहने वाले कैरिली ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि हम दोनों को कोरोना से मौत का डर है। वायरस की वजह से अगर मैं बीमार पड़ता हूं तो मेरा ख्याल रखना वाला कोई नहीं है। ऐसे में मैं हमेशा मास्क लगा कर रखता हूं।

बिस्किट चखकर एक महीने में कमा सकते हैं 3 लाख रुपए, इस कंपनी ने निकाली अनोखी जॉब

Show More
Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned