क्लासरूम के बाहर खाली कटोरा लेकर खड़ी थी ये मासूम लड़की, लेकिन फिर स्कूल....

  • वायरल हो रही है बच्ची की तस्वीर
  • स्कूल में रोज दिया जाता है मिड-डे मील

नई दिल्ली: आज भी भारत देश में उन लोगों के लिए शिक्षा किसी सपने से कम नहीं हैं, जिनके पास अपने जीवन यापन करने के लिए चंद पैसे भी नहीं है। फिर ऐसे में शिक्षा तो बहुत दूर की बात है। ऐसे ही शिक्षा से जुड़ी एक मासूम बच्ची की तस्वीर चर्चा में बनी हुई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तेलूगू में एक बच्ची की फोटो के साथ लिखा है 'अकाली चूपु' जिसका मतलब है 'भूखी निगाहें'।

यहां होता है जिंदा लोगों का अंतिम संस्कार, सामने आई चौंकाने वाली वजह

खाने के लिए आती थी बच्ची

खींची गई तस्वीर को गुड़िमालकापुर के देवल झाम सिंह गवर्नमेंट हाई स्कूल में लिया था। वायरल ( viral ) तस्वीर में देखा जा सकता है कि एक बच्ची खाली कटोरा लेकर क्लासरूम के अंदर चुपके से झांक रही है। बच्चे स्कूल में मिलने वाले मिड-डे मील को क्लास में बैठकर खा रहे है और दिव्या नाम की ये मासूम बच्ची उन्हें बाहर से देख रही है। दिव्या के माता-पिता पास की झुग्गी में रहते हैं। उसके पिता कचरा उठाने का काम करते हैं और मां सफाई कर्मी है। स्कूल में जो मिड-डे मील का खाना बचता था, उसे खाने के लिए दिव्या स्कूल आती थी।

स्कूल ने दिया एडमिशन

वहीं जब ये तस्वीर वायरल हुई तो स्कूल ने बच्ची के भविष्य को ध्यान में रखकर उसे स्कूल में दाखिला दे दिया। वहीं एनजीओ एमवी फाउंडेशन के राष्ट्रीय संयोजक वेंकट रेड्डी ने फेसबुक पर इस तस्वीर को शेयर किया। एमवी फाउंडेशन बालिकाओं के अधिकारों के लिए काम करती है। तस्वीर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, 'एक बच्ची को देश में शिक्षा और भोजन नहीं मिलना शर्म की बात है।' दिव्या का अब स्कूल में दाखिला हो चुका है और इसी दौरान उसका फोटो भी क्लिक किया गया।

Show More
Prakash Chand Joshi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned