सबरीमाला: भीड़ से पिटती रही महिला पत्रकार, निकले आंसू फिर भी नहीं भूली अपना फर्ज

शाजिला का कहना है कि यह उनके करियर का अब तक का सबसे बुरा अनुभव था।''

Vinay Saxena

January, 0411:16 AM

हॉट ऑन वेब

नई दिल्ली: सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश के बाद केरल में बवाल मचा हुआ है। हिंदू संगठनों ने गुरुवार को हड़ताल का आह्वान किया। जमकर तोड़फोड़, आगजनी और हिंसा हुई। इस दौरान अपना ड्यूटी कर रहे मीडियाकर्मियों पर भी हमले किए गए। इन सबके बावजूद एक महिला कैमरापर्सन बिना डरे अपना फर्ज निभाती रही। गालियां सुनी, आंसू गिरे, लेकिन महिला पत्रकार के अपना काम करती रही।

सोशल मीडिया पर वायरल हुई फोटो

महिला का नाम शाजिला अब्दुलरहमान है। शाजिला को केरल के एक न्यूज चैनल की ओर से विरोध प्रदर्शन कवर करने के लिए तिरुअनंतपुरम भेजा गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, न्यूज कवर करने के दौरान ही शाजिला पर हमला भी हुआ, उन्हें गालियां भी दी गईं। इन सबके बावजूद वह अपने काम पर डटी रहीं। शाजिला की तस्वीर को लोग सोशल मीडिया पर खूब शेयर कर रहे हैं।

प्रदर्शनकारी ने पीठ पर मारी लात, कैमरा तोड़ने की कोशिश

शाजिला ने बताया, ''मैं कैमरे से रिकॉर्डिंग कर रही थी। अचानक किसी ने मेरी पीठ पर लात मारी। प्रदर्शनकारियों ने मेरा कैमरा तक तोड़ने की कोशि की, लेकिन मैं अपने काम पर डटी रही।'' शाजिला का कहना है कि यह उनके करियर का अब तक का सबसे बुरा अनुभव था।''

मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के बाद बिगड़े हालात

बता दें, सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश के बाद हालात बिगड़ गए हैं। केरल में कई जगह पर स्थानीय लोगों ने राज्य सरकार के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन किए। कई जगहों पर स्थानीय संगठनों ने बंद का भी आह्वान किया।

Vinay Saxena
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned