मलेनाडु और करावली के तटीय इलाकों में तेज बारिश

मलेनाडु और करावली के तटीय इलाकों में तेज बारिश
-मानसूम सक्रिय, चार दिन ऑरेंज अलर्ट
हुब्बल्ली

By: Zakir Pattankudi

Updated: 15 Jun 2021, 12:11 PM IST

मलेनाडु और करावली के तटीय इलाकों में तेज बारिश
हुब्बल्ली
कर्नाटक में मानसून सक्रिय हुआ है। सोमवार से मलेनाडु, करावली (तटीय इलाकों) में बारिश तेज हुई है। करावली जिले दक्षिण कन्नड़, उत्तर कन्नड़, उडुपी में सोमवार से चार दिन आरेंज अलर्ट घोषित किया गया है। विजयपुर, हावेरी, गदग, धारवाड़, बेलगावी, बागलकोट जिलों में दो दिन यल्लो अलर्ट घोषित किया गया है।
करावली जिले उत्तर कन्नड़, दक्षिण कन्नड़, उडुपी जिलों में भारी बारिश होने की संभावना के चलते सोमवार को एक दिन का रेड अलर्ट भी घोषित किया गया है। दक्षिण कन्नड़, उडुपी में बारिश से अनेक मकान, सड़कों को क्षति पहुंची है, कई जगहों पर बिजली कनेक्शन भी कटा है। सुब्रह्मण्य में कुमारधारा नदी उफान पर है। कार्कल, कोट्टिगेहार, बालेहोन्नूर आदि जगहों पर रविवार से बारिश बढ़ी है।
भारतीय मौसम विभाग की चेतावनी दी है कि सोमवार से 17 जून तक कर्नाटक के करावली जिलों तथा दक्षिण भीतरी क्षेत्र में भारी बारिश होने की संभावना है, आरेंज जोन घोषित किया गया है। दक्षिण भीतरी जिले हासन, शिवमोग्गा, चिक्कमगलूरु, कोडगु जिलों में 16 तथा 17 जून को आरेंज अलर्ट घोषित किया गया है। बकाया दिनों में यल्लो अलर्ट घोषित किया गया है।
शिवमोग्गा के होसनगर, सागर, तीर्थहल्ली, चिक्कमगलूरु, मूडिगेरे, कोप्प, कलस व शृंगेरी में बारिश तेज हुई है।
मौसम विभाग के निदेशक सीएस पाटील ने बताया कि उत्तर भीतरी क्षेत्र में सोमवार से भारी बारिश होने की संभावना है। इसके चलते उत्तर भीतरी क्षेत्र में सोमवार से दो दिवसीय यल्लो अलर्ट घोषित किया है। यादगिर, विजयपुर, हावेरी, गदग, धारवाड़, बेलगावी, बागलकोट जिलों में यल्लो अलर्ट घोषित किया है।
भारतीय मौसम विभाग ने बताय कि बंगाल की खाड़ी में हवा का दबाव घटने से कर्नाटक में बारिश तेज हुई है। करावली के अलावा शिवमोग्गा, चिक्कमगलूरु, कोडगु, हासन, बीदर, गदग, बेंगलूरु नगर, कलबुर्गी, बेंगलूरु ग्रामीण, चित्रदुर्ग, कोलार, तुमकूर, कोप्पल, दावणगेरे जिलों में भी सोमवार से एक सप्ताह यल्लो अलर्ट घोषित किया गया है।
कर्नाटक में अच्छी बारशि हो रही है इसके चलते अभी से जलाशयों में बड़े पैमाने पर पानी की आवक हो रही है और नदियां उफन रही है। करावली जिलों में आरेंज अलर्ट घोषित होने से आगामी एक सप्ताह तक मछुवारों को समुद्र में नहीं उतरने की चेतावनी दी है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि जून से सितंबर तक बारिश होगी। इस वर्ष सामान्य से मूसलाधार बारिश होगी।

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned