आश्रम में महिलाओं के साथ ऐसे रंगरेलियां मनाते थे आसाराम बापू और बेटा नारायण साईं

आश्रम में महिलाओं के साथ ऐसे रंगरेलियां मनाते थे आसाराम बापू और बेटा नारायण साईं

इंदौर. नाबालिक के साथ रेप के आरोप में फंसे आसाराम को आज जोधपुर न्यायालय में दोषी करार दिया दे दिया गया है। यह पहला मामला नहीं जब आसाराम बापू और नारायण साईं पर रेप और छोड़छाड़ जैसे संगीन आरोप लगे हों। इंदौर के आश्रम में दोनों बाप बेटे की महिलाओं के साथ रंगरेलियों की फोटो कई बार चर्चा का विषय रहे हैं। यहां तक की आसाराम की बहू और नारायण साईं की पत्नी जानकी ने तो अपने पति और ससुर पर कई गंभीर आरोप लगाए। जानकी ने पुलिस में बयान दिया है कि नारायण साईं के महिलाओं से अवैध संबंध हैं। और यह सब उसकी नजरों के सामने ही होता रहा। जानकी ने इसी आधार पर नारायण साईं पर तलाक भी मांगा है। मालूम हो कि नाबालिक से दुष्कर्म केस में आसाराम को 2013 में इंदौर के आश्रम में गिरफ्तारी हुई थी।

 

asaram bapu

आसाराम बापू की बहू और नारायण साईं की पत्नी ने पति और ससुर पर गंभीर आरोप लगाते हुए कई अहम खुलासे किए थे। जानकी नारायण ने इंदौर के खजराना थाने में रेप के आरोप में जेल में बंद नारायण सांई और आसाराम बापू के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी और उनपर मानसिक, शारीरिक, आर्थिक प्रताडऩा का आरोप लगाए हैं। जानकी ने दोनों के खिलाफ घरेलू हिंसा का आरोप भी दर्ज कराया है।

asaram bapu

पति नारायण साईं के पापों का किया था खुलासा
अपने पति नारायण साईं के पापों का खुलासा करते हुए जानकी ने आरोप लगाया थे कि पहली पत्नी के होते हुए उसने दूसरी शादी की। जानकी नारायण कहना है की नारायण सांई आश्रम में बालिग और नाबालिग लड़कियों को लालच, वशीकरण, डरा धमका कर अवैध सम्बन्ध बनाता था। जानकी के मुताबिक नारायण साईं ने कई बार उसके सामने आश्रम में लड़कियों के साथ संबंध बनाए। अगर कोई इसका विरोध करता तो वो मुंह बंद रखने और जान से मारने की धमकियां देता था। जानकी के मुताबिक नारायण ने लंदन निवासी बीना पटेल की शादी अपने भक्त अनंग नायक से कराई लेकिन मंगलसूत्र खुद पहनाया और मांग भी खुद भरी।

asaram bapu

पत्नी ने लगाया आरोप जानकी ने बताया कि शादी के बाद मुझे पता चला कि उनके कई और महिलाओं के साथ शारीरिक संबंध हैं। इसके बाद भी वह तलाक नहीं दे रहे हैं।

पत्नी ने लगाया आरोप इसमें आरोप लगाया कि उसका विवाह नारायण से 22 मई 1997 को हुआ था। इसके बाद वह सास लक्ष्मी के साथ अहमदाबाद के महिला आश्रम में रहकर उनकी देखभाल करती थी। आसाराम ने घोषणा की थी कि उनका बेटा 5 साल तक ब्रह्मचर्य का पालन करेगा। लेकिन उसके बाद भी वो लड़कियों के साथ घूमता रहा। जानकी ने कहा की आसाराम लोगों को बताना चाहते थे कि इतनी सुंदर पत्नी होने के बाद भी नारायण ब्रह्मचर्य का पालन करेगा। संत के नाम पर कलंक जानकी ने बताया की शादी के बाद नारायण आश्रम की साधिकाओं के साथ सत्संग के नाम पर घूमता रहता था। अकसर लड़कियों के साथ विदेश जाता था। उसने बताया कि नारायण के खराब चरित्र का वह विरोध करती तो वह उसे मानसिक-शारीरिक प्रताडऩा देता था। वो संत के नाम पर कलंक है।

ब्लू फिल्म भी बनाता था
लड़कियों का ब्लू फिल्म बनवाता था नारायण साईं 16 साल की नाबालिग से बलात्कार के मामले में जेल में बंद नारायण साईं अपने आश्रम में लड़कियों की ब्लू फिल्म बनवाता था। नारायण साईं के इस पापलीला का खुलासा सूरत के सेशन कोर्ट की फास्ट ट्रैक अदालत के एक फैसले में हुआ था।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned