आंतरिक कलह से त्रस्त है कांग्रेस : तोमर

- केंद्रीय मंत्री इंदौर आए, पूर्व लोक सभा स्पीकर के घर जाकर करीब एक घंटे तक की मुलाकात

इंदौर. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सोमवार को इंदौर में थे। करीब पांच घंटे के लिए इंदौर आए तोमर ने कांग्रेस पर एक बार फिर निशाना साधा। उन्होंने कहा कांग्रेस आंतरिक कलह से त्रस्त है। उनका शीर्ष नेतृत्व अप्रसांगिक हो चुका है। पंजाब प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री बदलने के बाद हो रही खींचतान इसका परिणाम है। पूरे देश में कांग्रेस की यही स्थिति है। किसान आंदोलन को लेकर बोले केंद्र सरकार और भाजपा की किसानों के प्रति स्पष्ट नीति है। किसानों के विकास और उन्नति के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। 2014 के बाद से लगातार किसानों के हितों में सरकार काम कर रही है। किसान आंदोलन को लेकर बोले देश के अधिकांश किसान नए कृषि कानूनों के समर्थन में हैं। कुछ यूनियन इससे संतुष्ट नहीं हैं। इसे लेकर 11 दौर की चर्चा हो चुकी है। वे हमारे प्रस्ताव से संतुष्ट नहीं हैं, इसलिए हमने उनके प्रस्ताव मांगे हैं। उम्मीद है दोनों पक्षों की सहमति से सही निर्णय होगा। भाजपा शासित प्रदेशों में लगाातर मुख्यमंत्रियों के बदलाव के बीच मप्र में भी बदलाव की आशंका से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा ऐसी कोई जानकारी मुझे नहीं है। किसानों की फसलों की एमएसपी सहित अन्य योजनाओं के आंकड़े भी तोमर ने बताई।महाजन के घर पर एक घंटे चर्चादोपहर करीब 3.30 बजे तोमर विमान से इंदौर आए थे। सबसे पहले राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के पारिवारिक आयोजन में शामिल होने ब्रिलियंट कनवेंशन सेंटर पहुंचे। इसके बाद पूर्व लोक सभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के घर औपचारिक मुलाकात करने पहुंचे थे। दोनों के बीच करीब एक घंटे तक चर्चा हुई, इस दौरान अन्य नेताओं को बाहर कर दिया गया था। यहां से तोमर पितृ पर्वत भी दर्शन करने गए थे। शाम करीब 8.15 बजे तोमर दिल्ली के लिए रवाना हुई। सांसद शंकर लालवानी, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर, गोविंद मालू, सुदर्शन गुप्ता, जीतू जिराती सहित अन्य नेता मौजूद थे।

विकास मिश्रा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned