देखिए तालाब के सामने ऐसा भव्य और खूबसूरत बनेगा इंदौर का जिला कोर्ट

देखिए तालाब के सामने ऐसा भव्य और खूबसूरत बनेगा इंदौर का जिला कोर्ट

amit mandloi | Publish: Sep, 07 2018 01:33:29 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

9 मंजिला इस भवन में पक्षकारों, वकीलों और न्यायधीशों के लिए तमाम सुविधाएं मौजूद होंगी।

 



इंदौर. तीन साल से चली खींचतान के बाद अंतत: शहर के नए और भव्य जिला कोर्ट भवन का शिलान्यास शनिवार को होने जा रहा है। 9 मंजिला इस भवन में पक्षकारों, वकीलों और न्यायधीशों के लिए तमाम सुविधाएं मौजूद होंगी। दो मंजिलों में गाडिय़ों की पार्किंग की होगी, जबकि वहां नियमित पैरवी करने वाले वकीलों के लिए चैंबर बनाए जाएंगे। भविष्य में जरूरत के मुताबिक 56 कोर्ट और बनाने के लिए भी स्थान छोड़ा जाएगा।

शनिवार को सुबह 11.30 बजे लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन व सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा के मुख्य आतिथ्य में नए भवन का भूमि पूजन और निर्माण कार्य का शुभारंभ होगा। मप्र के चीफ जस्टिस हेमंत गुप्ता, विधि मंत्री रामपाल सिंह, हाई कोर्ट जस्टिस पीके जायसवाल और जेके माहेश्वरी भी मौजूद रहेंगे। इसके निर्माण का जिम्मा पीडब्ल्यूडी को दिया है।

18.20 एकड़ में होगा निर्माण

नए कोर्ट भवन के लिए सितंबर 2015 में पहली योजना बनाई थी। पीपल्याहाना तालाब के पास भवन बनने के प्रस्ताव का खासा विरोध हुआ था। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के अलावा मामला हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक भी गया था। बाद में कोर्ट के आदेश पर 18.20 एकड़ जमीन पर नया भवन बनाने की योजना बनाई गई है। 11 मंजिला नए भवन में रेस्टोरेंट, बैंक, बार एसोसिएशन ऑफिस, पोस्ट ऑफिस, स्टोक रूम व प्राथमिक उपचार केंद्र भी होंगे। पहले बनाए गए प्लान में कोर्ट का भवन 27 एकड़ में पांच मंजिला प्रस्तावित था।

मींटिग रूम और सीजेएम आफिस भी

नए भवन में कई मीटिंग रूम, सीजेएम ऑफिस, रजिस्ट्रार रूम, डीजे चैंबर और ऑफिस, लाइब्रेरी, लॉकअप सुविधा, मालखाना, जिला लीगल सर्विस ऑफिस, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम, लोक अभियोजन कार्यालय भी होंगे। यहां पर रेन वॉटर हार्वेस्टिंग, वेस्ट वॉटर ट्रीटमेंट सहित अत्याधुनिक फायर फायर सिस्टम भी प्रस्तावित है।

वकील करेंंगे लोक अदालत का बहिष्कार

जिला कोर्ट को पीपल्याहाना तालाब शिफ्ट करने का जिला अभिभाषक संघ विरोध करता आया है। अब भूमि पूजन कार्यक्रम तय करने से पहले जिला अभिभाषक संघ से चर्चा नहीं करने से वकील नाराज हैं। वे 8 सितंबर को होने वाली लोक अदालत का बहिष्कार करेंगे। अध्यक्ष निदेश पांडे ने इसकी पुष्टि की है।

झूलाघर भी

प्रिंसिपल रजिस्ट्रार अनिल वर्मा ने बताया, कोर्ट में आने वाली महिलाओं सहित छोटे बच्चों के लिए झूलाघर व सुविधाघर भी बनाया जाएगा। शनिवार को पीपल्याहाना तालाब के पास भूमि पूजन के बाद सभी अतिथि बायपास स्थित अंबर गार्डन पहुंचेंगे। यहां पर औपचारिक कार्यक्रम होगा।

ऐसा होगा नया जिला कोर्ट

411 करोड़ रुपए की लागत
30 माह में होगा तैयार
15 लाख वर्गफीट में बनेगा
40 मीटर ऊंचा 9 मंंजिला भवन
02 मंजिल पार्किंग के लिए
169 कोर्ट भवन बनेंगे
800 चेंबर वकीलों के लिए
21 लिफ्ट लगेंगी

Ad Block is Banned