फेल विद्यार्थियों ने किया जमकर हंगामा, कहा- पुराना रिजल्ट ही जारी कर दो

फेल विद्यार्थियों ने किया जमकर हंगामा, कहा- पुराना रिजल्ट ही जारी कर दो

Reena Sharma | Publish: May, 14 2019 12:00:46 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

यूनिवर्सिटी ने जांच के लिए बनाई कमेटी

इंदौर. बीएड सेकंड सेमेस्टर के नतीजों पर हुए बवाल के कारण यूनिवर्सिटी की मूल्यांकन व्यवस्था पर कई सवाल खड़े हुए है। सोमवार को फेल होने वाले विद्यार्थियों ने यूनिवर्सिटी में हंगामा कर पूर्व में तैयार रिजल्ट ही जारी करने की मांग की। इधर, मामले की जांच के लिए कुलपति ने अतिरिक्त संचालक की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी गठित की है, जो 15 दिन में जांच पूरी कर यूनिवर्सिटी को रिपोर्ट सौपेंगी।

करीब डेढ़ माह की अवधि में दोबारा कॉपी जंचवाते हुए सेकंड सेमेस्टर का रिजल्ट पिछले शुक्रवार को जारी किया है, जिसमें महज 59 फीसदी परीक्षार्थी ही पास हुए। जबकि पूर्व में जो कॉपियां जंची थीं, उसमें 96 फीसदी परीक्षार्थी पास हो रहे थे। रिजल्ट बिगडऩे से नाराज परीक्षार्थी एबीवीपी छात्रनेताओं के साथ सोमवार को विवि पहुंचे। हंगामे की आशंका देखते हुए विवि प्रशासन ने पुलिस को सूचना दे दी थी।

परीक्षार्थियों को मेन गेट पर ही रोक लिया। उन्होंने कुलपति या रजिस्ट्रार से चर्चा करने की बात कही, लेकिन इसे अनसुना कर दिया गया। काफी देर चली बहस के बाद एबीवीपी के वीरेंद्र सिंह सोलंकी, करण मूलचंदानी, शुभेंद्र सिंह गौड़, सौरभ शर्मा कुलपति से मिल पाए। छात्रनेताओं ने मूल्यांकन में लापरवाही करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने नतीजों में अंतर पर सवाल किया तो कुलपति ने कहा 96 फीसदी वाला नतीजा जारी ही नहीं हुआ था। ऐसे में अंतर का सवाल नहीं उठता। अतिरिक्त संचालक प्रो. केएन चतुर्वेदी की अध्यक्षता में प्रो.कामाक्षी अग्निहोत्री व एक अन्य सदस्य की कमेटी मामले की जांच करेगी।

-किसी विषय में सीसीई के अंक मिलाकर 40 नंबर होना जरूरी है। संभवत: ऐसे विद्यार्थी 26 अंक लाकर फेल हुए होंगे। पहले और बाद के मूल्यांकन में आए अंतर की जांच के लिए कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।
- प्रो.नरेंद्र धाकड़, कुलपति

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned