बंगाल और असम से भेजी जाती थीं लड़कियां, होटल के सीक्रेट रूम में 67 लड़कियों से कराया जाता था ऐसा काम

लड़कियों को होटल के ही एक बंकरनुमा कमरे में कैद किया गया था।

By: Pawan Tiwari

Updated: 03 Dec 2019, 08:55 AM IST

इंदौर. मध्यप्रदेश के इंदौर में एक निजी कारोबारी और अखबार मालिक के होटल समेत कई ठिकानों पर पुलिस और प्रशासन ने छापा मार कार्रवाई की है। इस मामले में में अब नए-एन खुलासे सामने आ रहे हैं। इस होटल में 67 लड़कियां को बंधक बनाया गया था। इन्हें वेतन भी नहीं दिया जाता था। ये लड़कियां होटल के एक गुप्त ( बंकरनुमा ) कमरे में रहती थीं। इन लड़कियां के माध्यम से रसूखदार लोगों के अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल किया जाता था।

होटल में होती थीं अवैध गतिविधियां
जानकारी के अनुसार इस होटल में अवैध गतिविधियां भी होती थीं। 'माय होटल' से 67 लड़कियां बरामद हुई हैं। इनके साथ बच्चे भी थे। इन्हें होटल के ही एक बंकरनुमा कमरे में कैद किया गया था। इन लड़कियों को वेचन नहीं दिया जाता था बल्कि उन्हें ग्राहकों की ट्रिप पर हिस्सेदारी मिलती थी। इसके साथ ही कहा जा रहा है कि इन लड़कियों के माध्यम से हाई-फाई लोगों के अश्लील वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल किया जाता था।

मालिक पर इनाम घोषित
होटल मालिक जीतू सोनी, फरार है। जबकि पुलिस ने जीतू सोनी के बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, जीतू सोनी पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है। मानव तस्करी, आईटी एट सहित अन्य मामलों में फरार चल रहे जीतू सोनी की तलाश में पुलिस की कई टीमें छापेमारी कर रही है, लेकिन जीतू पुलिस गिरफ्त से बाहर है। इधर पुलिस के अफसरों ने जीतू की संपत्ति की जांच शुरू कर दी है, जिसमें यह पता लगाया जा रहा है कि उसने इतनी संपत्ति आखिर कैसे हासिल कर ली। जीतू के घर, अखबार कार्यालय, होटल से बरामद अन्य लोगों की संपत्ति के कागजातों की भी जांच की जा रही है।

एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने बताया कि शनिवार रात 10 बजे फरियादी हरभजनसिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी, इसके बाद 10.30 बजे हमने अन्य विभागों को साथ लेकर चार स्थानों पर कार्रवाई कर दी। शनिवार रात पुलिस ने प्रशासन सहित नौ विभागों के साथ मिलकर कारोबारी जीतू सोनी के घर, ऑफिस, होटल और अखबार कार्यालय पर छापेमारी की थी।

पुलिस ने असम और बंगाल की जिन 67 लड़कियों व महिलाओं को माय होम होटल से छुड़ाया है, वह किनके जरिए यहां आई उस दलाल की तलाश की जा रही है। सूचना मिली है कि इनकी गरीबी का फायदा उठाकर कुछ दलाल एक मुश्त रुपए लेकर इन्हें यहां भिजवाते थे। सभी लड़कियों से इस तरह की पूछताछ की जा रही है। हालांकि कुछ महिलाओं ने अपनी स्वेच्छा से यहां आना बताया और अपने पतियों के साथ रहने की बात कही, लेकिन पुलिस क्रॉस चेक कर रही है। पुलिस को शक है कि एक गिरोह इन महिलाओं को यहां पहुंचाने में सक्रिय रहा। इनसे देह व्यापार के बिंदु पर भी जांच जारी है।

Show More
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned